जानिए क्यों खास होता है मदर्स डे, पढ़िए इसके कुछ रोमांचक सच

मदर्स डे

मां भगवान की बनाई सबसे कीमती और नायाब चीज है। एक मां सिर्फ अपने बच्चे का ही ख्याल नही रखती बल्कि पूरे परिवार की जिम्मेदारी अपने कांधे पर उठाती है। मां के इसी समर्पन को सम्मान देने के लिए मदर्स डे मनाया जाता है। इस दिन को भारत में 13 मई के दिन मनाया जाता हैं। हालांकि इंटरनेशनल मदर्स डे को 8 मार्च को मनाया जाता। आज हम आपको मदर्स डे से जुड़े कुछ दिलचस्प फैक्ट्स बताएंगे जिनके बारे में शायद आप नही जानते होंगे।

Mother’s Day के इंस्ट्रेस्टिंग फैक्ट्स:

Mother’s Day के इंस्ट्रेस्टिंग फैक्ट्सImage source:

1. आपको बता दें कि मदर्स डे की शुरुआत अमरिकी एक्टिविस्ट एना जार्विस द्वारा की गई थी। दरअसल वह अपनी मां से बहुत प्रभावित थी और उन्हें अपनी प्रेरणा मानती थी इसलिए अपनी मां की मौत के बाद उन्हें सम्मान देने के लिए उन्होंने इस दिन की शुरुआत की। इसके बाद धीरे धीरे अन्य देशों ने भी उन्हें फोलो किया।

2. आपको बता दें कि दुनिया में पहली बार मदर्स डे साल 1908 में अमेरिका के वेस्ट वर्जीनिया और फिलाडेल्फिया शहरों में मनाया गया था।

मदर्स डेImage source:

3. इस खास दिन के लिए 9 मई 1914 में अमेरिका के प्रेजीडेंट वुड्रो विल्सन द्वारा एक कानून पारित किया गया जिसके तहर मई महीने के हर दूसरे रविवार को मदर्स डे मनाने का प्रावधान रखा गया।

4. इस फैसले के बाद से अमेरिका व भारत समेत बहुत से देशों में इस दिन निर्धारित किए गए दिन ही मनाया जाता है, लेकिन इन सब से अलग यू. के. में इसे दिन को 6 मार्च के दिन मनाया जाता है।

मदर्स डेImage source:

5. यूके व यूरोप कुछ अन्य देशों द्वारा इस दिन को अलग तारीख पर मनाने की वजह ईसाई कैलेंडर है, जिसके तहर वह इसे लेंट महीने के छठे हफ्ते में मनाते है। वे लोग इसे मदरिंग डे कहते है।

6. ईसाई धर्म के लोग इस दिन को वर्जिन मेरी का दिन मानकर उनकी पूजा करते हैं, वह उन्हें फूल भेंट कर उनसे प्रार्थना करते हैं।

To Top