मृत घोषित हो चुके इस बच्चे को फिर से मिला जीवन

0
506

चीन में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसके बारे में जानकर आप शायद हैरत में पड़ जाएं और भगवान का धन्यवाद करें। चीन में एक मासूम बच्चे को डॉक्टर्स ने मृत घोषित कर दिया। जिसके बाद इस बच्चे को मुर्दा घर भेजा गया। बच्चा पूरी रात 15 घंटों तक माइनस 12 डिग्री सेल्सियस पर मुर्दा घर में ही रहा। इस बीच बच्चे के अंतिम संस्कार की तैयारियां भी कर ली गई थी। इसके बाद बच्चे को अंतिम संस्कार के लिए पूर्वी चीन के झेझियांग प्रांत में पैनान इलाके में ले जाया गया। इस जगह के कर्मचारी बच्चे के अंतिम संस्कार की सारी तैयारियां पूरी कर चुके थे, उसी समय अचानक बच्चा कराहने लगा। वहां मौजूद तमाम लोग यह नज़ारा देख पर अपनी आंखों पर यकीन नहीं कर पा रहे थे।

बच्चे के जीवित होने का पता लगने पर उसे फौरन इनटैंसिव केयर में रखा गया। इसके बाद बच्चे के पिता को इस बात की सूचना दी गई। दरअसल बच्चे के पैदा होने पर 23 दिनों तक उसे इन्क्यूबेटर में ही रखा गया था, लेकिन बाद में उसके पिता बच्चे को वापस घर ले आए। वह बच्चे को नए चंद्रवर्ष के मौके पर घर लाना चाहते थे, लेकिन घर वापस लाने के बाद बच्चे की तबीयत खराब रहने लगी और 4 फरवरी के दिन डॉक्टर्स ने बच्चे की धड़कन बन्द पड़ने पर उसे मृत ठहरा दिया।

1Image Source: http://henan.china.com.cn/

बताया जा रहा है कि बच्चे को मुर्दाघर भेजते हुए उसके पिता ने बच्चे को दो कपड़े पहना कर एक मोटे बैग में रखा था। शायद इसी वजह से बच्चे की जान माइनस 12 डिग्री तापमान में भी बच पाई। डॉक्टर अभी बच्चे के ज़िन्दा रहने की वजह तलाश रहे हैं।

इस बच्चे का जन्म समय से पहले ही जनवरी में हो गया था। इस हॉस्पिटल के एक डॉक्टर ने बताया कि “मैंने ऐसा पहली बार देखा है, यह सचमुच चमत्कार है”।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here