टी-20 वर्ल्ड कप से बाहर हुई इंडिया, मायूस हुआ हिन्दुस्तान

0
387

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम का नजारा कल देखने वाला था। जिस वक्त स्टेडियम में बैठे क्रिकेट प्रेमियों को एक तूफानी विराट मैदान में खेलता दिख रहा था, स्टेडियम के चारों तरफ से बस इंडिया-इंडिया की ही आवाज आ रही थी और वो आवाज सिर्फ स्टेडियम में बैठे लोगों की ही नहीं बल्कि हिन्दुस्तान के हर दिल की आवाज थी, वह हिन्दुस्तान उस वक्त मायूस हो गया जब टी-20 के सेमीफाइनल को टीम इंडिया वेस्टइंडीज से हार गई।

1Image Source: http://media2.intoday.in/

लेंडल सिमंस और जॉनसन चार्ल्स ने विराट कोहली की इस शानदार पारी पर पानी फेर दिया। वहीं इंडिया के 193 रनों के लक्ष्य को वेस्टइंडीज ने 19.4 ओवर में ही तीन विकेट के नुकसान पर हासिल कर लिया। लेंडल सिमंस ने 51 गेंदों पर सात चौके और पांच छक्कों की मदद से 83 रनों की शानदार पारी को खेला। वहीं जॉनसन चार्ल्स ने 36 गेंदों पर 52 और आंद्रे रसेल ने 20 गेंदों पर 43 रनों की अच्छी पारी खेली।

2Image Source: http://media2.intoday.in/

जैसा कि सभी को पता है कि कल टीम इंडिया ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी की थी। हार के बारे में मैच के बाद कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी का बयान सामने आया। जिसमें उन्होंने कहा कि हमारी पारी में ओस का असर होने लगा था। जिसके कारण गीली गेंद से स्पिनर अच्छी गेंदबाजी नहीं कर पा रहे थे। उन्होंने बताया कि मुझे कहीं ना कहीं आभास हो रहा था कि ‘टीम के लिए टॉस हारना खतरनाक साबित हो सकता है।’ हालांकि उनके अनुसार उन्हें अपने गेंदबाजों से उन दो नो बॉल के अलावा किसी तरह की कोई शिकायत नहीं है। उनके मुताबिक सबने अपनी तरफ से काफी अच्छा खेलने की कोशिश की।

3Image Source: http://im.rediff.com/

वहीं, अब तक वेस्टइंडीज के जिस प्लेयर को सबसे खतरनाक माना जा रहा था उसी खतरनाक क्रिस गेल को दूसरा ओवर लेने आए जसप्रीत बुमराह ने गुमराह कर दिया और सबसे क्रिस गेल की विकेट ली। वहीं तीसरा ओवर नेहरा ने लेकर उनका दूसरा मर्लन सैमुअल्स का विकेट लिया। जिसके बाद जॉनसन चॉर्ल्स और लेंडल सिमंस ने काफी अच्छी बल्लेबाजी करते हुए वेस्टइंडीज की पारी को संभाला और जीत दिलाई।

4Image Source: http://media2.intoday.in/

वहीं दूसरी और टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया ने भी अपनी तरफ से कोई कसर नहीं छोड़ी। मैच काफी जबरदस्त था। मैच की शुरूआत करने उतरे रोहित शर्मा और आजिंक्य रहाणे ने पहले 7-2 ओवरों में 62 रनों की साझेदारी की थी। जिसके बाद रोहित एलबीडब्लयू आउट हो गये। जिसके बाद विराट कोहली मैदान में उतरे। आजिंक्य रहाणे ने 49 गेंदों में 66 रनों की साझेदारी की। जिसके बाद टीम इंडिया को दूसरा झटका रहाणे का लगा। उसके बाद विराट का साथ देने मैदान में कप्तान धोनी आए। जिसके बाद तो ऐसे लग रहा था मानों विराट तीसरे गियर से सीधे छठें गियर में आ गये हों। कोहली ने लास्ट के 3 ओवर को धुनते हुए 48 रन बनाए। वहीं धोनी ने 27 गेंदों पर विराट के साथ 64 रनों का साझेदारी की। जिसके बलबूते वेस्टइंडीज के लिए उन्होंने 192 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया। बहरहाल हार जीत तो लगी रहती है। ऐसे में अब टी-20 वर्ल्ड कप का फाइनल 3 अप्रैल को इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच होने वाला है। जिसमें देखना होगा कि किसको मिलती है टी-20 वर्ल्ड कप की ट्रॉफी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here