बाप और बेटे के लिए IAS ने घर पर ही बनाई कैंसर और किडनी की अचूक दवा

0
638

आज के समय में शरीर में होने वाले दुष्प्रभाव का जहर इतनी तेजी से बढ़ रहा है कि लोग ना जानें कितनी तरह की बीमारियों से जकड़ चुके है, उसमें से सबसे खतरनाक बीमारी देखी जाए, तो वह कैंसर, किडनी या लीवर की ही बीमारी होती है, जिससे बच पाना संभव नहीं होता है। लेकिन बिहार कैडर के एक आईएएस अधिकारी एसएम राजू ने अपने हुनर और कौशल के दम पर इन खतरनाक बिमारियों का इलाज ढूंढ निकाल डाला है, जिसका उपयोग करने से अब तक ना जानें कितने लोगों की जान बचाई जा चुकी है ।

बताया जाता है इनके द्वारा बनी गई दवाओं का सेवन सामान्य लोगों से लेकर बड़े-बड़े उधोगपति, मंत्री और बॉलिवुड की बड़ी-बड़ी हस्तियां भी कर चुकी हैं। इसी गुणवत्ता को देखकर इनकी बनाई गई14 दवाओं को सरकारी लाइसेंस भी मिल चुका है। इनके द्वारा कैंसर, किडनी, लिवर डायबिटिज, एंटी एंजिग जैसे रोगों से लड़ने के लिए कई आयुर्वेदिक दवाएं बनाई जा चुकी है।

आईएएस अधिकारी एसएम राजू का इन दवाईयों को बनाने का प्रमुख उद्देश अपने पापा की किडनी की बीमारी और अपने बेटे को कैंसर जैसे रोग से मुक्त कराना था। क्योंकि इस बीमारी का काफी इलाज कराने के बाद भी, इस रोग को दूर करने वाली अंग्रेजी दवाइयां भी काम करना छोड़ चुकी थी और शरीर में इसके साइड इफेक्ट्स भी ज्यादा ही देखने को मिल रहे थें। इन रोग से परेशान होकर आखिरकार उन्होंने ठान लिया कि वह खुद अपने पिता और बेटे का इलाज अंग्रेजी दवाओं से नहीं बल्कि आयुर्वेदिक दवा को बनाकर करेंगे। इसके बाद उन्होंने आयुर्वेदिक दवाओं के लिए गहन रिसर्च किया। पूरा अध्ययन कर लेने के बाद आयुर्वेदिक दवा बनाने में कामयाबी मिल ही गई। इनके द्वारा बनाई गई दवाओं का उपयोग करने से उनके पिता व बेटे में सुधार दिखने लगा। अब आज के समय में इनकी दवा का उपयोग सभी लोग कर रहें हैं। आज के समय में एसएम राजू की दवाओं से कई बड़ी हस्तियां भी अपनी बीमारियों से मुक्ति पा चुकी हैं। राजू के द्वारा बनाई जानें वाली इन आयुर्वेदिक दवाओं को अब एक बेंगलुरु की एक जानी मानी कंपनी बना रही है। इन आयुर्वेदिक दवाओं का सेवन करने से कई बीमारियां जैसे डायबिटिज, कैंसर, लिवर, किडनी, हड्डी से जुड़ी बीमारी आदि के रोग दूर हो जाते है। इन दवाओं का सेवन करने से शरीर में कोई साइड इफेक्ट्स भी नहीं होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here