यहां परिंदों के घर में वास करते हैं इंसान

0
427

स्टोन विलेज के नाम से प्रसिद्ध ईरान का कंदोवन नाम का गांव एक पर्यटन स्थल है। इस गांव का नाम मधुमक्खियों के घोंसले के नाम पर रखा गया है। यहां पर लोगों ने चट्टानों को खोदकर घर बनाएं हैं, जहां पर आने वाले पर्यटकों के लिए यह काफी अद्भुत नजारा होता है। कंदोवन में रहने वाले लोगों का मुख्य पेशा पशुपालन और कृषि है। यहां के लोगों के मुताबिक यह गांव पिछले 700 साल से भी काफी अधिक पुराना है।

Humans live in the home of birds1Image Source:

कंदोवन में सबसे पहले निवासी यहां हमलावर मंगोलों से अपनी जान बचाने के लिए आए थे, वह अक्सर छिपने के लिए ज्वालामुखी चट्टानों में अपना ठिकाना खोजा करते थे। आखिर में वह उनका स्थायी घर बन जाता था। यह जगह अब ईरान के सबसे लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक हो गई है।

Humans live in the home of birds2Image Source:

इस गांव की खासियत यह है कि यहां पर बने घर पहाड़ के ऊपर नहीं, बल्कि उन्हें खोदकर बनाए गए हैं। बता दें कि चट्टान को खोदकर घर बनाने से गर्मियों के मौसम में यह काफी ठंडा रहता है और सर्दियों के मौसम में यह काफी गर्म रहता है, जिसके कारण यहां के निवासियों को एसी और हीटर का इस्तेमाल नहीं करना पड़ता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here