ईमानदारी कोई इनसे सीखे

0
393

आमतौर पर ऐसा कहा जाता है कि अब ईमानदारी का जमाना कहां रहा। दूसरों के हित के लिए कुछ करना तो दूर लोग किसी के भले के बारे में सोचते तक नहीं हैं। कहां और किस तरह से अपना फायदा किया जा सकता है सभी का ध्यान बस इसी में रहता है। आज के समय को देखते हुए यह बातें काफी हद तक सही भी लगती हैं, पर इन सब के बीच कुछ लोग ऐसे भी हैं जो अपने लाभ के बजाय पहले दूसरों की परेशानियों का ध्यान रखते हुए उनकी मदद करते हैं। ऐसा ही कुछ काम किया है मुंबई के एक ऑटो चालक ने। जिसके लिए उन्हें मुंबई पुलिस ने सम्मानित भी किया है।

1Image Source: http://img01.ibnlive.in/

जानकारी के अनुसार मुंबई में ऑटो चालक कैलाश यादव ने एक महिला यात्री का गहनों से भरा हुआ बैग उसे वापस लौटाया है। मुंबई के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि बायकला की निवासी संजना गुप्ता को कहीं जाना था। जिसके लिए उन्होंने एक ऑटो की। इस ऑटो से बोरीवली स्टेशन पर उतरते समय संजना अपना बैग उसमें भूल गईं। पुलिस के मुताबिक इस बैग में एक लाख से अधिक मूल्य के गहने थे। संजना के ऑटो से उतरने के बाद ऑटो चालक की नजर बैग पर पड़ी। उसने आस-पास संजना को तलाशने की काफी कोशिश की, लेकिन कुछ पता ना चलने पर ऑटो चालक इस बैग को लेकर सीधे कस्तूरबा मार्ग थाने गया और पूरे मामले की जानकारी दी। पुलिस की मदद से कैलाश यादव ने बैग को उसके मालिक को लौटाया। कैलाश की इस ईमानदारी के लिए पुलिस की ओर से उन्हें सम्मानित भी किया गया। साथ ही संजना के परिवार वालों ने भी कैलाश का तहे दिल से शुक्रिया अदा किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here