_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2017/01/","Post":"http://wahgazab.com/palace-of-queen-cleopatra-found-under-water-in-this-sea/","Page":"http://wahgazab.com/addd/","Attachment":"http://wahgazab.com/palace-of-queen-cleopatra-found-under-water-in-this-sea/water1/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/28118/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=154","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

टीम इंडिया के सिक्सर किंग ‘युवराज’ को जन्‍मदिन मुबारक

Winning Captain's Press Conference - 2011 ICC World Cup

करोड़ों क्रिकेट फैंस के चहेते और उनके दिलों में बसने वाले टीम इंडिया के सिक्सर किंग ‘युवराज’ यानी की साड्डे युवराज सिंह आज 34 साल के हो गए हैं। युवी का जन्म 12 दिसंबर 1981 को चंडीगढ़ में भूतपूर्व क्रिकेट खिलाड़ी योगराज सिंह के यहां हुआ था। उनकी मां का नाम शबनम सिंह है। युवराज को भारतीय क्रिकेट की जान भी कहा जा सकता है।

Yuvraj Shing1Image Source: http://galleries.celebs.movies.2.pluz.in/

भले ही युवराज सिंह आज भारतीय क्रिकेट टीम का हिस्सा नहीं हैं, लेकिन वे भारतीय मिडिल ऑर्डर बैटिंग की जान हुआ करते थे। कहते हैं भारतीय क्रिकेट का जब कभी जिक्र होगा तो युवराज सिंह का जिक्र जरूर आएगा। आना भी लाजमी है, क्योंकि युवराज ही ऐसे खिलाड़ी हैं जिसने देश के लिए तीन विश्व कप खेले और जिताए। इन तीन विश्व कपों में युवराज ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। युवराज बाएं हाथ के आक्रामक बल्लेबाज हैं और इनकी स्लो लेफ्ट आर्म ऑर्थोडॉक्स बॉलिंग जमे हुए बल्लेबाजों के कदम उखाड़ देती है।

Yuvraj Shing6Image Source: http://www.mazale.in/

क्रिकेट में योगदान के लिए उन्हें 2012 में अर्जुन अवार्ड से सम्मानित किया गया। 2014 में युवराज को पदमश्री से भी सम्मानित किया जा चुका है। आप सभी को अच्छी तरह से पता है कि अगले साल फरवरी में युवराज सिंह घोड़ी भी चढ़ने वाले हैं। इस घड़ी का उनके फैंस काफी बेसब्री से इंतजार कर रहे थे। लंबे इंतजार और आंख मिचौली के बाद आखिरकार इंडोनेशिया के बाली में दिवाली के दिन टीम इंडिया के सिक्सर किंग युवराज ने बॉलीवुड अदाकारा हेज़ल के साथ सगाई कर ली।

Yuvraj Shing3Image Source: http://i.ndtvimg.com/

युवराज को भारतीय वनडे क्रिकेट टीम का हिस्सा साल 2000 में बनाया गया था। हालांकि, टेस्ट मैच खेलने का मौका उन्हें 2003 में ही मिल गया था। युवराज ने भारतीय टीम में आने के बाद कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। युवी के नाम से प्रसिद्ध युवराज को 2011 के क्रिकेट विश्व कप का मैन ऑफ द टूर्नामेंट घोषित किया गया था। 2007 में खेले गए टी-20 विश्व कप के हीरो भी युवराज सिंह ही रहे हैं। इसी विश्व कप में इंग्लैंड के गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ओवर में 6 छक्कों का रिकार्ड आज भी कायम है।

Yuvraj Shing4Image Source: http://images.indianexpress.com/

युवराज के फलते-फूलते क्रिकेट कैरियर में तब भूचाल आ गया जब 2011 में उन्हें कैंसर का पता चला। इस बीमारी के कारण उनके कैरियर पर थोड़ा ब्रेक लग गया, लेकिन कैंसर से उबरने के बाद युवराज ने सितम्बर 2012 में न्यूजीलैंड के खिलाफ टी-20 मैच से वापसी की। इस बार उनका चयन आगामी विश्वकप के लिए नहीं हो सका। बावजूद इसके इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि युवराज सिंह एक महान खिलाड़ी हैं और क्रिकेट जगत उनके योगदान को नहीं भूल सकता। युवी को टीम में अपनी वापसी का इंतजार है। वे रणजी ट्रॉफी खेल रहे हैं और हाल ही में उन्होंने शतक भी जड़ा है।

Indian cricketer Yuvraj SinghImage Source: http://hdwallpaperbackgrounds.net/

 

Most Popular

To Top