हनुमान मंदिर- पाक के इस मंदिर में जमीन से निकली थी हनुमान प्रतिमा, लोगों की आस्था का है केंद्र

Hanuman temple in Pakistan where a statue of lord hanuman emerged from the ground 1

हिंदू धर्म के मंदिर विश्व के अनेक देशों में मौजूद हैं। इससे यह साबित होता है कि हिंदू धर्म न सिर्फ प्राचीन है बल्कि वह पूर्व समय से विश्व के सबसे बड़े भू-भाग में फैला हुआ है। यदि अपने देश की बात की जाए तो हमारे यहां सभी धर्मों के लोग रहते हैं। आज के समय में अपने देश में बहुत से देव स्थल मौजूद हैं, पर इसी प्रकार से हमारे पड़ोसी देश पकिस्तान में भी कई प्रसिद्ध हिंदू मंदिर हैं।

इन मंदिरों में आज भी लोग जाते हैं और मनोकामनाएं मांगते हैं। आज हम आपको पाकिस्तान के एक हनुमान मंदिर के बारे में बता रहें हैं। वैसे तो दुनिया के अलग अलग हिस्सों में भगवान श्री हनुमान के बहुत से मन्दिर बने हुए हैं पर इनमें से कुछ मंदिर बहुत ज्यादा प्राचीन हैं। पाकिस्तान के जिस हनुमान मंदिर की बात हम आपको बता रहें हैं वह भी बहुत प्राचीन है।

Hanuman temple in Pakistan where a statue of lord hanuman emerged from the ground 2image source:

आपको बता दें कि पाक का यह हनुमान मंदिर करांची शहर में स्थित है तथा “पंचमुखी हनुमान मंदिर” के नाम से प्रसिद्ध है। इस मंदिर के इतिहास को बेहद प्राचीन माना जाता है। इस मंदिर में स्थित भगवान हनुमान की पंचमुखी प्रतिमा को भी अति प्राचीन तथा हजारों वर्ष पुरानी माना जाता है। मान्यता है कि भगवान श्रीराम अपने समय में प्रवास के दौरान यहां आये थे। आज भी यह मंदिर पाकिस्तान के हिंदू भक्तों के लिए हमेशा खुला रहता है। लोग इस मंदिर में लगी प्रतिमा के बारे में यह बताते हैं कि महज 11 मुट्ठी मिट्टी हटाने के बाद जमीन से स्वयं ही यह पंचमुखी प्रतिमा प्रकट हुई थी। आज भी जो लोग अपनी मनोकामना की पूर्ति के लिए इस मंदिर में आते हैं वह इस मंदिर की 11 परिक्रमाएं करते हैं। मान्यता है कि ऐसा करने से भक्तों की मन्नत पूरी हो जाती है। इस मंदिर के इतिहास को हजारों वर्ष पुराना बताया जाता है, पर वर्तमान मंदिर का संबंध 18 वीं शताब्दी से जुड़ा हुआ है। कहा जाता है कि मंदिर का पुनर्निर्माण 1882 में कराया गया था।

To Top