विश्व सांस्कृतिक महोत्सव- एक मंच पर दिखेगी पूरे विश्व की कला

0
391

आर्ट ऑफ लिविंग के 35वें स्थापना दिवस पर श्री श्री रविशंकर की तरफ से भव्य कार्यक्रम विश्व सांस्कृतिक महोत्सव आज 11 मार्च से शुरू होने जा रहा है। भारत ही नहीं विदेश के लोग भी काफी बड़ी संख्या में इस समारोह की गरिमा को बढ़ाने के लिये पहुंच रहे हैं। इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए मैक्सिको की विदेश मंत्री क्लाउडिया रूज-मस्सीउ सेलिनास दिल्ली पहुंच चुकी हैं। इसके अलावा जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे को भी आमंत्रित किया गया है।

दिल्ली में यमुना किनारे होने वाले इस सबसे बड़े महोत्सव का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। 11 मार्च से 13 मार्च तक चलने वाले इस महोत्सव में दुनियाभर के करीब 35 लाख लोगों के जुड़ने की संभावना है। जिसमें 155 देशों के प्रतिनिधि भी शामिल होने जा रहे हैं।

आर्ट-ऑफ-लिविंग-के-35वें-स्थापना-दिवस-पर-श्री-श्री-रविशंकर-की-तरफImage Source :http://static.abplive.in/

बड़े पैमाने पर होने वाले इस कार्यक्रम की सुरक्षा के लिये काफी बड़े पैमाने पर सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम किये गये हैं। 8000 पुलिस सुरक्षा बलों के अलावा एसपीजी और एनएसजी को भी तैनात किया गया है। आतंकी हमले के खतरों को देखते हुए चारों ओर स्वाट कमांडो की तैनाती की गई है।

बड़े-पैमाने-पर-होने-वाले-इस-कार्यक्रम-कीImage Source :http://static.abplive.in/

बताया जा रहा है कि बड़े पैमाने पर हो रहे इस समारोह को अच्छी तरह से संपन्न कराने के लिये कुछ विशेष ट्रेनों की भी व्यवस्था की जा रही है। जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग इस कार्यक्रम में भाग लेकर इस भव्य समारोह की गरिमा को बढ़ा सकें। इसके लिये दूर दराज से आने वालों के लिये पुख्ता इंतजाम भी किये गये हैं। सभी जरूरी सुविधाओं का अच्छा ध्यान रखा गया है। कार्यक्रम के स्थल की सजावट भी काफी भव्य तरीके से की गई।

इसके अलावा यहां आने वाले लोगों का खास ध्यान रखते हुए चार मोबाइल के टावर लगाए गए हैं। लोगों के लिए फ्री वाई फाई की सुविधा भी की गई है। आपातकाल की स्थिति से निपटने के लिए एंबुलेंस की व्यवस्था की गई है। स्वच्छता को मद्देनजर रखते हुये साफ सफाई का विशेष ध्यान दिया जायेगा जिसके लिये डस्टबीन से लेकर कूढ़ाघर तक की व्यवस्था की गई है।

इस समारोह को और अधिक रंगारंग बनाने के लिये विश्वभर के अलग- अलग देशों-प्रदेशों के लगभग 36,000 कलाकार एकसाथ यहां एक मंच पर देखने को मिलेंगे। ऐसा माना जा रहा है कि यह समारोह कई देशों के साथ-साथ यहां के लोगों को भी एक-दूसरे के जोड़ने का अद्भुत प्रयास करेगा।

इसके-अलावा-यहां-आने-वाले-लोगों-का-खास-ध्यान-रखतेImage Source :http://static.abplive.in/

वहीं, एनजीटी ने श्री श्री की संस्था आर्ट ऑफ लिविंग को पांच करोड़ रुपए बतौर जुर्माना भरने को कहा था। इसके बाद आर्ट ऑफ लिविंग की तरफ से आज 25 लाख का जुर्माना भरा जाएगा, जबकि बाकी 4.75 करोड़ रुपए 3 हफ्तों के अंदर जमा करवाने होंगे। हालांकि, इससे पहले श्री श्री ने कहा था कि ना तो हमने कोई जुर्म किया है और ना ही हम किसी भी प्रकार का जुर्माना भरेंगे, चाहे इसके लिये हमें जेल ही क्यों ना जाना पड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here