यहां तोप से गोला छोड़कर दी जाती है “रमजान” की सूचना, जानें इस स्थान के बारे में

 

रमजान का पवित्र महीना शुरू हो चुका है और इस महीने में रोजेदार एक महीने के लिए रोजे भी रखते है। रोजे रखने का सिलसिला एक महीने तक चलता है और उसके बाद में ईद का त्योहार आ जाता है। रमजान के इस माह में रोजेदारों को सहरी तथा रोजा इफ्तार की सूचना मस्जिदों से दे दी जाती है।

सामान्यतः तो मस्जिद से होने वाली अजान की आवाज से ही रोजेदार सहरी तथा इफ्तार के समय के बारे में जान ही जाते हैं, पर कई जगहों पर कई अनोखे तरीकों का भी प्रयोग किया जाता है और आज हम आपको एक ऐसे ही स्थान के बारे में जानकारी दे रहें हैं, जहां पर तोप से गोले को छोड़कर रमजान की सूचना दी जाती है।

image source:

तोप से गोले को छोड़कर रमजान की सूचना देने वाला यह स्थान है भोपाल का रायसेन। यहां की एक मस्जिद की पारंपरिक तोप से शहर का ईमाम चांद के दिखने तथा रमजान शुरू होने की सूचना देते हैं। तोप में बारूदी गोला भरकर उसको आकाश की ओर छोड़ा जाता है ताकि किसी को कोई हानि न पहुंचे और इसके बाद ही लोग स्वयं समझ जाते हैं कि चांद दिख गया है और रमजान शुरू हो चुके हैं। देखा जाए तो यह अपने आप में एक अलग ही तरीका है। रमजान की सूचना इस प्रकार तोप छोड़ कर देने से पहले प्रतिवर्ष डीएम से परमिशन ली जाती है तथा हर वर्ष छोड़े गए गोलों में आने वाले खर्च को मस्जिद कमेटी ही वहन करती है।

To Top