_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2018/04/","Post":"http://wahgazab.com/why-does-india-media-want-to-spread-communalism-in-society/","Page":"http://wahgazab.com/aadhaar/","Attachment":"http://wahgazab.com/jeep/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/37779/","Custom_css":"http://wahgazab.com/flex-mag/","Oembed_cache":"http://wahgazab.com/769db88c626971aefb4da31a62a82b34/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=38240","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

दूल्हे की गाड़ी के सामने धरने पर बैठी प्रेमिका, फिल्मी स्टाइल में हुई शादी

हाल ही में एक मामला सामने आया है जिसमें बारात लेकर जा रहे दूल्हे की गाड़ी के आगे उसकी प्रेमिका आकर बैठ गई और इसके बाद जो हुआ वह आप सोच भी नहीं सकते। जी हां, असल में हुआ यह था कि जब दूल्हा अपनी बारात लेकर जा रहा था, तब अचानक उसकी प्रेमिका दूल्हे की गाड़ी के आगे आकर बैठ गई, जिसके बाद में शादी वाले घर में काफी हड़कंप मच गया और सभी हैरान रह गए।

यह मामला सामने आया है बिहार प्रदेश के दरभंगा के रेवढ़ा गांव से, यहां पर रहने वाले बंसीलाल अपने बड़े बेटे लखेंद्र की शादी की तैयारियों में बहुत खुशी से जुटे हुए थे। बारात निकलने का समय हो चुका था और जब बंसीलाल का बेटा लखेंद्र दूल्हा बन बारात की गाड़ी में बैठा तब अचानक से एक लड़की वहां आ पहुंची और लखेंद्र की गाड़ी के आगे बैठ गई, जिसके चलते सभी लोग हैरान हो गए। लड़की का कहना था कि वह लखेंद्र की प्रेमिका है और वह सिर्फ उसी से शादी करेगी। यह बात सुनकर लोगों को बहुत हैरानी हुई क्योंकि लखेंद्र ने कभी इस बात की चर्चा किसी से नहीं की थी।

image source:

कुछ लोगों ने इस बात की खबर पुलिस थाने में कर दी जिसके चलते पुलिस भी बंसीलाल के घर पहुंच गई और मामला बढ़ता देख पुलिस दूल्हे तथा उसकी प्रेमिका को थाने में ले गई, जहां दोनों से शांति पूर्वक चर्चा की गई। लड़की ने बताया कि उसका लखेंद्र के साथ एक वर्ष से प्रेम संबंध है और दूसरी ओर दूल्हे ने भी प्रेम संबंध की बात को स्वीकार किया।

दोनों ने बताया कि उन्होंने घर के लोगों के डर से इस बात खबर किसी को नहीं दी थी। पुलिस ने दूल्हे के पक्ष वालों से चर्चा की और दोनों ही पक्षों ने आपसी मेलजोल से श्यामा माई मंदिर में दोनों की शादी करवा दी और जिस लड़की से लखेंद्र शादी करने जा रहा था, उसके साथ में बंसीलाल ने अपने छोटे बेटे की शादी कर दी, इस प्रकार से बंसीलाल के घर में एक ही समय में दो दुल्हनों ने प्रवेश किया।

To Top