जन्मदिन: भारतीय क्रिकेट टीम की ‘वाल’ हैं द्रविड़

भारतीय क्रिकेट टीम में ‘द वाल’ के नाम से भी पहचाने जाने वाले राहुल द्रविड़ भारतीय क्रिकेट की ऐसी शख्सियत हैं जिसने मैदान पर अपने विरोधियों को जवाब कभी बोलकर नहीं बल्कि अपने धाकड़ बल्लेबाजी से दिया है। क्रिकेट के कैरियर में कभी किसी विवाद में ना फंसने वाले टीम इंडिया की वाल द्रविड़ का आज जन्मदिन है। मध्यप्रदेश के इंदौर में 11 जनवरी 1973 को जन्मे राहुल द्रविड़ दुनिया के एकमात्र ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 30,000 गेंदों का सामना किया है।

rahul-dravid1Image Source:

राहुल द्रविड़ के बारे में एक बात यह है कि वह बेहद शांत मिजाज और शालीन खिलाड़ी हैं। इस बात की पुष्टि उनके क्रिकेट के रिकॉर्ड से होती है। टेस्ट मैचों में राहुल द्रविड़ ने अब तक कुल 164 मैच खेले हैं। जिनमें उन्होंने 13,288 रन बनाए। उन्होंने टेस्ट मैचों में 52.31 36 शतक और 63 अर्धशतक लगाए हैं। आपको बता दें कि उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 270 का रहा है। वहीं, उन्होंने कुल एकदिवसीय 29 मैच खेले हैं। जिनमें उनके कुल रन 10,889 रहे। उन्होंने एकदिवसीय में 12 शतक और 83 अर्धशतक लगाए और उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 153 का रहा है।

क्रिकेट की दुनिया का यह महान खिलाड़ी करीब डेढ़ दशक तक टीम इंडिया की बल्लेबाजी का आधार स्तंभ रहा है। जिसनें टीम इंडिया की हर जरूरत, हर चुनौती को फ्रंट फुट पर आकर स्वीकार किया है। राहुल द्रविड़ ने भारतीय टीम के लिए ओपनिंग भी की है और सातवें नंबर पर भी खेले हैं। बताया जाता है कि जब टीम इंडिया को अतिरिक्त बल्लेबाज की जरूरत पड़ी थी तो वह विकेट के पीछे खड़े होने से भी नहीं हिचके।

DravidImage Source:

बता दें कि विदेशों में हमेशा बैकफुट पर रही भारतीय टीम को राहुल ने ‌जीतने का ऐसा जज्बा दिया है जिससे इनकी सधी हुई तकनीक और लंबी पारियों ने कई टेस्ट श्रृंखलाओं में भारत की जीत की इबारत लिखी है। द्रविड़ को बचपन से ही क्रिकेट से काफी लगाव था। उन्होंने 12 साल की उम्र में ही क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था। वर्ल्ड कप में बैक टू बैक 2 शतक जमाने वाले राहुल द्रविड़ पहले भारतीय बल्लेबाज थे। 2003 के वर्ल्ड कप में उन्हें भारतीय टीम का उपकप्तान बनाया गया था। 2007 वर्ल्ड कप में उन्होंने भारतीय टीम की कप्तानी भी की थी।

राहुल द्रविड़ टेस्ट क्रिकेट में भारत की तऱफ से सबसे ज्यादा बार दोहरा शतक जमाने वाले बल्लेबाजों की सूची में तीसरे नंबर पर हैं। उन्होंने अपने करियर में 5 बार दोहरा शतक ठोका था। पहले नंबर पर सहवाग हैं, जिन्होंने 6 बार ये कारनामा किया है तो सचिन ने भी 6 बार दोहरा शतक जमाने का कमाल किया है। इस महान खिलाड़ी के बारे में कई दिग्गजों ने भी अपनी-अपनी राय दी है।

rahul-dravid3Image Source:

द्रविड़ मैदान में आपको थका-थका के मार देगा- शोएब अख्तर
द्रविड़ जैसे खिलाड़ियों का बेहतरीन कैरियर इसका सबूत है कि ऐसे खिलाड़ी कभी रिटायर नहीं होते- स्टीव वॉ
द्रविड़ एक ऐसे खिलाड़ी हैं जो टूटे कांच के टुकड़ों पर भी चलने को तैयार रहते हैं अगर उनकी टीम को इसकी जरूरत है- नवजोत सिंह सिद्धू
क्रिकेट के मैदान पर जो हो रहा है वह आक्रमकता नहीं है, आक्रमकता देखनी है तो द्रविड़ की आंखों में देखिये- मैथ्यू हेडेन

To Top