_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2018/04/","Post":"http://wahgazab.com/bottles-of-water-are-being-used-to-save-this-seven-hundred-year-old-tree/","Page":"http://wahgazab.com/aadhaar/","Attachment":"http://wahgazab.com/bottles-of-water-are-being-used-to-save-this-seven-hundred-year-old-tree/glucose-2/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/37779/","Custom_css":"http://wahgazab.com/flex-mag/","Oembed_cache":"http://wahgazab.com/0f66939619e6f091493652639d567514/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=38240","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

ट्रांसजेंडर के टीवी एंकर बनने पर पाकिस्तान में खड़ा हुआ बड़ा विवाद

पाकिस्तान की सामाजिक छवि पहले से ही काफ चरमराई हुई है। ऐसे में वहां अब एक ट्रांसजेंडर को टीवी एंकर बना दिया गया तो कई तरह के नए विवाद उत्पन्न हो गए है। बहुत से लोग इस बात से काफी खफा है कि एक आम महिला या पुरुष को टीवी एंकर क्यों नहीं बनाया गया। हालांकि कई लोग इस बात से काफी खुश भी नजर आ रहें हैं और इसको पाक की विकासशील विचारधारा का प्रतीक मान रहें हैं। खैर वैश्विक स्तर पर सभी को पता है कि पाकिस्तान की अंतर्राष्ट्रीय छवि कैसी है। अब आपको बताते हैं कि इस ट्रांसजेंडर के बारे में। इस ट्रांसजेंडर का नाम माविया मलिक है। इसको एक निजी पाकिस्तानी न्यूज़ चैनल ने अपने यहां टीवी एंकर बनाया है। पत्रकार शिराज हसन ने इस बात की जानकारी अपने ट्वीटर हैंडल पर दी।

ट्रांसजेंडरImage source:

शिराज हसन ने लिखा की “पाक में एक ट्रांसजेंडर न्यूज एंकर बनी है जिसका नाम माविया मालिक है।” इस खबर के वायरल होते ही लोगों की मिलीजुली प्रतिक्रिया रही। आपको बता दें कि पाकिस्तान में ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी ट्रांसजेंडर को न्यूज एंकर बनाया गया हो। आपको बता दें कि माविया लाहौर की निवासी है तथा वे ग्रेजुएशट हैं। उनका बचपन से ही न्यूज़ एंकर बनने का सपना था। वर्तमान में पाक में 10 हजार से अधिक ट्रांसजेंडर निवास करते हैं। माविया की इस उपलब्धि पर कुछ लोग इसको पाकिस्तान की लचर आर्थिक व्यवस्था का प्रतीक मान रहें हैं। हाल ही में थर्ड जेंडरों पर वाली प्रताड़ना को रोकने के लिए पाक में एक बिल पारित हुआ है। इस बिल में यह साफ किया गया है कि यदि कोई व्यक्ति थर्ड जेंडर को किसी प्रकार की प्रताड़ना देता है तो उसको उचित दंड दिया जायेगा।

To Top