रहस्य – बरमुडा ट्रायएंगल ने उगला 100 साल पुराना जहाज

हमारा विज्ञान भले ही धरती से लेकर आसमान की ऊचांईयों को माप लेने की बात करता हो पर आज के युग का सबसे बड़ा अनसुलझा रहस्य जिसे बरमुडा ट्रायएंगल के नाम से जाना जाता है, इसको विज्ञान भी सुलझा नहीं पाया है। इस अनसुलझे रहस्य से भरे दैत्य रूपी सागर ने न जानें कितने ही शिप और एयर प्लेन्स को अपने आगोश में ले लिया है। यहां पर पहुंचने वाला हर यान रहस्यमयी रूप से अचानक लापता हो जाता है। जिसे ढूंढ पाना मुश्किल हो जाता है कि वो किस काल के आगोश में समा गया। जिसका पता आज तक कोई नहीं लगा पाया है यहां तक कि विज्ञान भी इस तथ्य को समझने में नाकाम रहा है। लेकिन हाल ही में हुई घटना ने सभी को आश्चर्य में डाल दिया हैं। 100 साल पहले गायब हुआ जहाज रहस्यमयी ढंग से ट्रायएंगल से लौट आया।

Video Source:

क्यूबा के कोस्ट गार्ड के अनुसार उन्हें अचानक एक पानी का जहाज दिखा। जो लवारिस रूप से पड़ा हुआ था। जिसे “एस एस कोटोपेक्सी” बताया जा रहा है यह वो जहाज है जो 100 साल पहले बरमुडा से अचानक लापता हो गया था। इसका नाम बरमुडा में गुम होने वाले जहाजों की सूची में भी नामांकित किया गया था।

बताया जाता है कि “एस एस कोटोपेक्सी” नामक यह शिप 29 नवम्बर सन् 1925 को साऊथ कोरोलीना से हवाना और क्यूबा के लिए लगभग 2340 टन कोयला लेकर रवाना हुआ था। इस जहाज में 32 क्रू मेम्बर थे, जिसके कमाण्डर W.j. Meyer थे। पर अचानक 2 दिन की यात्रा करने के बाद यह शिप लापता हो गया और 90 साल तक इसका कोई पता नहीं चल सका कि आखिर शिप कहां गई।

हवा ना में मिले इस शिप को देखकर वहां पर पहुंचे लोग दंग रह गये कि लगभग 100 साल पुरानी शिप अचानक कैसे वापस गई। इस जवाब को पाने के लिए अब इसकी जांच और खोज की जा रही है कि इस जहाज के अचानक गायब होने और फिर कई सालों बाद अचानक मिलने के पीछे का रहस्य क्या है।

To Top