दुनिया की पहली मृत महिला के गर्भाश्य से हुआ स्वस्थ बच्ची का जन्म

मेडिकल साइंस

आज के समय में मेडिकल साइंस इतना आगे पहुचं चुका है कि अब आये दिन नये नये कारनामो से   कोई ना कोई नया चमत्कार देखने को मिलता रहता है। अभी हाल ही में मेडिकल साइंस ने एक ऐसा प्रयोग किया है जिसे बारे में सुनकर हर कोई दंग रह जाएगा। दरअसल, डॉक्टरों ने अभी हाल ही में किये एक मृत महिला के गर्भाशय का ट्रांसप्लांट किया। खास बात तो यह है कि वह दूसरी महिला प्रेग्नेंसी भी हो गई और एक स्वस्थ बच्चे को जन्म भी दिया।

ब्राजील के डॉक्टरों ने किया चमत्कार –

ब्राजील के डॉक्टरों ने किया चमत्कार

आश्चर्यचकित कर देने वाला यह मामला ब्राजील के एक हॉस्पिटल का है, जहां डॉक्टरों की टीम ने मृत महिला के गर्भाशय ट्रांसप्लांट करके एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया। ये प्रयोग उन महिलाओं के लिये वरदान साबित हुआ। जोकि मां बनने का सुख प्राप्त नहीं कर सकती। अब इन महिलाओं को भी उम्‍मीद की एक नई किरण जगी है।

मिली जानकारी के अनुसार ब्राजील में रहने वाली 32 वर्षीय महिला काफी गंभीर बीमारी से जूंझ रही थी साथ ही में उस महिला के शरीर में जन्म से ही यूट्रस यानी गर्भाशय नहीं था जिसके चलते वो मां नहीं बन सकती थी। इसके बाद डॉक्टरों की सहमति के बाद ब्रेन हमेरेज से मरी 45 वर्षीय महिला का गर्भाशय ऑपरेशन के जरिये निकाला गया। और दूसरी महिला में प्रतिरोपण किया गया। यह ऑपरेशन 10 घंटे से अधिक समय तक चला। ऑपरेशन करने वाली टीम ने दाता के गर्भाशय को जिस महिला में उसका प्रतिरोपण किया गया उसकी धमनी, शिराओं, अस्थिरज्जु और वेजाइनल कैनाल से जोड़ा गया

इस ऑपरेशन के 5 माह बाद तक महिला को ऑब्जर्वेशन पर रखा गया। इस दौरान किसी भी तरह की कोई परेशानी सामने नहीं आई तो डॉक्टरों ने मरी हुई महिला के गर्भाशय में फर्टिलाइज्ड एग्स डाले, जिसके 7 महीने और 10 दिन के बाद उनकी उम्मीद तब जाग गई, जब महिला के प्रेग्नेंट होने की खबर सामने आई।

स्वस्थ बच्चे को दिया जन्म –

स्वस्थ बच्चे को दिया जन्म

प्रेग्नेंट होने के 35 हफ्ते बाद ऑपरेशन  की मदद से डॉक्टरों ने एक स्वस्थ बच्ची को जन्म दिया। जन्म के समय बच्ची का वजन 3 किलो था। सर्जरी के 3 दिन बाद महिला को अस्पताल से डिस्चार्ज भी कर दिया गया।

To Top