यहां शादी से पहले पैदा करना होता हैं बच्चा, सबकी मर्जी से लिव-इन में रहते हैं कपल

बच्चा

 

जैसा की आप जानते ही हैं कि भारत देश अपनी अलग अलग परम्परायों और रिति-रिवाजो के चलते विश्वभर में प्रसिद्ध हैं। कई बार तो यह मान्यताएं इतनी अजीब हो जाती हैं कि उन्हें जानकर लोग भी हैरान रह जाते हैं। अक्सर हमारे समाज में शादी से पहले बच्चा पैदा करना निदनीय कार्य माना जाता हैं लेकिन देश का एक कौना ऐसा भी हैं जहां लड़के लड़की को शादी से पहले ही बच्चा पैदा करने की शर्त दी जाती हैं। अगर वह शर्त पुरी करते हैं तभी उनकी शादी की जाती हैं।

आपको बता दें कि यह परंपरा राजस्थान के उदयपुर के सिरोही और पाली इलाके में रहने वाले गरासिया जनजाति के लोगों की हैं। इस जनजाति के लोग गुजरात के भी कुछ हिस्सों में निवास करते हैं। वैसे देखा जाए तो इस जनजाति की यह अनोखी परंपरा आज की सोसायटी की लिव-इन संबंधो से मिलती जुलती हैं। इस जनजाति के जोड़े भी आपसी रजामंदी के तहत ही साथ में रहते हैं।

बच्चाImage Source: 

जब इनके बच्चे पैदा हो जाते हैं तो यह लोग शादी कर लेते हैं। दरअसल गरासिया जनजाति में दो दिन का विवाह मेला लगता हैं, जिसमें लड़के लड़कियां बिना शादी के पति पत्नी की तरह साथ रहने लगते हैं। इस दौरान उनके घरवालों व समाज की सहमति से लड़की वाले को लड़के वाले को शगुन के तौर पर कुछ पैसे देने होते हैं। बच्चा पैदा होने के बाद वह अपनी सहूलियत के मुताबिक कभी भी शादी कर सकते हैं।

बच्चाImage Source: 

इस प्रथा के पीछे समुदाय की एक अपनी पुरानिक कहानी है। उनके अनुसार आज के कई सालो पहले इस जाति के चार भाई कहीं और जाकर बस गए। इनमें से तीन ने शादी की और एक समाज की कुंवारी के साथ बिना शादी किए यानि लिव-इन में रहने लगा।

साल बीत गए मगर शादी शुदा भाईयों की कोई सन्तान नही हुई जबकि चौथा भाई जो लिव-इन में रहता था उसके बच्चे हो गए। बस तभी से इन लोगों में यह मान्यता बन गई। इस परम्परा का यह लोग दांपा कहते हैं। इन लोगों के अनुसार उनकी यह परम्परा 1000 साल पुरानी हैं और इसका पूरा सम्मान करते हैं।

To Top