_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2017/12/","Post":"http://wahgazab.com/one-of-the-top-5-south-indian-movie-that-earns-a-lot-of-fortune/","Page":"http://wahgazab.com/aadhaar/","Attachment":"http://wahgazab.com/?attachment_id=43757","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/37779/","Custom_css":"http://wahgazab.com/flex-mag/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=38240","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

डॉ रमन सिंह – वह मुख्य मंत्री जो फ्री में करते थे लोगों का इलाज, अब तोड़ा है पीएम मोदी का रिकॉर्ड

डॉ रमन सिंह

 

भारत के बहुत से मुख्यमंत्रियों को आपने देखा ही होगा, पर यहां हम आज आपको उस मुख्य मंत्री से मिलवा रहें हैं जो कभी फ्री में लोगों का इलाज करते थे और अब उन्होंने नरेंद्र मोदी का भी एक रिकॉर्ड तोड़ दिया है। जी हां, पीएम मोदी का रिकॉर्ड तोड़ने वाले इस बीजेपी के मुख्य मंत्री का नाम है “डॉ रमन सिंह“। हम आपको बता दें कि डॉ रमन सिंह ने हाल ही में अपने कार्यकाल के 5 हजार दिन पूरे किए हैं, जबकि मोदी जी के गुजरात एक कार्यकाल का समय 4610 था। इस तरह बीजेपी के डॉ. रमन सिंह ने वर्तमान पीएम नरेंद्र मोदी का रिकॉर्ड तोड़ दिया है।

डॉ रमन सिंहImage Source:

आपको जानकारी के लिए हम बता दें कि डॉ रमन सिंह ने 1975 में रायपुर से बीएएमएस किया था। इसके बाद में उन्होंने अपना ही क्लिनिक खोला। डॉ रमन सिंह लोगों को इलाज मुफ्त में करते थे, साथ ही वे मरीजों के लिए दवाइयां भी लिखा करते थे। इस प्रकार से डॉ रमन सिंह कुछ समय में लोगों के बीच एक समाजसेवी के रूप में प्रसिद्ध हो गए थे। 1976 में रमन सिंह को कवर्धा का जिला अध्यक्ष जनसंघ की ओर से बनाया गया और यही से उनके राजनीतिक करियर की शुरुआत हुई। आपको हम बता दें कि रमन सिंह ने 1984 में कवर्धा नगरपालिका से पार्षद का चुनाव जीत कर अपने करियर की शुरुआत की थी। हैरानी की बात यह है कि उस समय कवर्धा नगर पालिका में कांग्रेस का कब्जा था और बीजेपी के मात्र 2 ही पार्षद थे, जिनमें से एक रमन सिंह थे। 1990 में रमन सिंह ने विधान सभा चुनावों में कांग्रेस के जगदीश चद्रवंशी को हराया और विधायक बने। 1999 में रमन सिंह ने लोक सभा का चुनाव लड़ा और कांग्रेस के मोतीलाल बोरा को हराया और वह अटल बिहारी वाजपेयी की केबिनेट का हिस्सा बने। छत्तीसगढ़ की राजनीति में उस समय रमन सिंह को प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया। रमन सिंह के नेतृत्व में बीजेपी ने उस समय 90 में 50 सीटों पर अपना कब्जा कर सरकार बनाई और रमन सिंह को मुख्य मंत्री बनाया गया। इस प्रकार से लोगों का मुफ्त इलाज कर जनसेवा करने वाले रमन सिंह प्रदेश सेवक बन गए।

Most Popular

To Top