जेएनयू से जुड़े मामले पर नहीं थम रही नाराजगी

0
367

देश की गरिमा से जुड़े हर मुद्दों पर छात्र संगठन एक हो जाते हैं। बीते दिनों संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरु की बरसी मनाई गई थी। जिसमें देश विरोधी नारे लगाए गए थे। इस मामले को लेकर एबीवीपी के जेएनयू के छात्रों ने देशद्रोही नारों के खिलाफ एकजुट होकर विरोध में रैली निकाली। इस रैली में छात्रों ने अफजल गुरु के समर्थन में आने वालों के खिलाफ नाराजगी जताई।

दिल्ली स्थित जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में बीते नौ फरवरी को दलित संगठनों और वामपंथी संगठनों से जुड़े छात्रों द्वारा संसद पर हमले के आरोपी अफजल गुरु की बरसी मनाई गई। इस बरसी में कश्मीर के छात्रों को भी शामिल किया गया था। इस दौरान कैंपस के ही अंदर एक सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया था। इसमें छात्रों ने देश विरोधी नारे भी लगाए थे। उस दौरान एबीवीपी के छात्रों ने इस पर विरोध जताया तो बैठक करने वालों ने एबीवीपी के कार्यकर्ताओं की पिटाई कर दी थी।

इस मामले की गंभीरता को देखते हुए एबीवीपी के छात्र एक बार फिर से एकजुट होकर रैली निकालने लगे। इस रैली में छात्रों ने अफजल गुरु के समर्थन में आने वाले छात्रों के खिलाफ नारेबाजी की। छात्रों ने देश विरोधी नारे लगाने वालों के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए वंदे मातरम और भारत माता की जय के नारे लगाए। यह रैली इंडिया गेट पर आयोजित की गई थी।

1Image Source: http://static.abplive.in/

इस मामले में अफजल गुरु का समर्थन करने वालों के खिलाफ जेएनयू प्रशासन की ओर से आठ छात्रों पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की गई है। साथ ही इन छात्रों को किसी भी शैक्षणिक गतिविधियों में हिस्सा नहीं लेने लेने दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here