पाकिस्तान में डिटर्जेंट के विज्ञापन पर मचा बवाल, जानिए इसकी सबसे बड़ी वजह

पाकिस्तान

पाकिस्तान में इन दिनों डिटर्जेंट के एक अंतरराष्ट्रीय ब्रांड के विज्ञापन को लेकर काफी बबाल मचा था। इस विज्ञापन में रूढ़िवादी पितृसत्तात्मक देश में लैंगिक भेदभाव पर सवाल उठाए गए हैं। इस वीडियो में इस्लाम का कथित तौर पर अपमान किए जाने की बात कही गई है जिससे लोग कंपनी की निंदा कर रहे हैं।

अमेरिकी कंपनी प्रॉक्टर एंड गैंबल के स्वामित्व वाले एरियल साबुन के विज्ञापन में महिलाओं से रूढ़िवादी नियमों को तोड़ने और कैरियर की दिशा में आगे बढ़ने को कहा गया है।

पाकिस्तान

विज्ञापन में लिये जाने वाले पात्रों में विभिन्न पेशे की कई महिलाओं को चित्रित किया गया है जिसमें एक पत्रकार और एक डॉक्टर भी शामिल हैं इस एड में रस्सी पर टंगी मैली चार चादरों को हटाते हुए दिखाया गया है। इन चादरों पर पाकिस्तान में महिलाओं के संबंध में रूढ़ीवाद को लेकर कहे जाने वाली कुछ इस तरह की बातों का जिक्र किया गया है जैसे- ‘लोग क्या कहेंगे?’, ‘चारदीवारी में रहो’ आदि।

इसी विज्ञापन में पाकिस्तान महिला क्रिकेट टीम की कप्तान बिस्माह मरूफ के इस कथन के साथ समाप्त होता है, “चारदीवारी में रहो, ये सिर्फ वाक्य नहीं बल्कि दाग हैं।”

पाकिस्तान

अब यह एक पाकिस्तानियों के लिये एक मुद्दा तो बनना ही था फिर क्या था इस तरह के बने एड को लेकर सोशल मीडिया पर खूब प्रतिक्रियाएं देखने को मिल रही हैं जिसमें रूढ़िवादी लोग ट्विटर पर ‘एरियल का बहिष्कार करो’ जैसे हैशटैग का उपयोग कर रहे हैं। कुछ लोग इसे इस्लाम का अपमान बता रहे हैं तो कुछ लोग इन उदारवादियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं जो पाकिस्तान में उदारवाद को बढ़ावा दे रहे हैं।इसके अलावा कुछ पाकिस्तानी नियामकों ने इस विज्ञापन पर सेंसर लगाने और इसे हटाने की सिफारिश भी कर रहे है।

To Top