अजब फतवों की गजब फे‍हरिस्‍त

0
777

अरबी भाषा का एक शब्द फतवा, जिसका मतलब राय होता है। इसे धर्म के जानकार लोग तब जारी करते हैं जब कोई अपना निजी मसला लेकर मुफ्ती के पास जाता है। इसे आलिम-ए-दीन की शरियत के मुताबिक जारी किया जाता है, लेकिन इन फतवों को लेकर सबसे खास बात यह होती है कि कोई भी इन फतवों को मानने के लिए कानूनी रूप से बाध्य नहीं होता है, वरना फतवा जारी करने वाले ना जाने क्या से क्या कर देते।
आज हम आपको उन्हीं फतवों की एक लंबी फेहरिस्त के बारे में बताने जा रहे हैं जिसको जानकर आप भी हैरान हो जाएंगे। साथ ही सोच में पड़ जाएंगे कि आखिर धर्म के जानकार लोग, जिन्हें एक तरह से ज्ञानी माना जाता है वह ऐसे फतवे जारी करते वक्त क्या सोचते हैं जो इतने अजीबोगरीब फतवे जारी कर देते हैं। ना जाने इन फतवों को जारी करते वक्त वह अपनी कौन सी सोच और समझ की नुमाइश करते हैं कि उन्हें इनका मतलब तक भी पता नहीं होता। वैसे यह हमारी अपनी राय है। लोगों में भी इन्हें लेकर अपनी-अपनी राय हो सकती है। तो चलिए जानते हैं कुछ अजब फतवों की गजब फेहरिस्त…

सानिया मिर्जा की स्कर्ट पर फतवा

1Image Source: http://www.hindustantimes.com/

कोलकाता के एक इस्लामी संगठन को टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा की स्कर्ट से ही परेशानी होने लग गई थी। जिसको लेकर उन्होंने एक फतवा जारी कर दिया कि सानिया सही से कपड़े पहनकर खेलें, नहीं तो उन्हें खेलने से रोक दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सानिया की शॉर्ट स्कर्ट और टाइट टॉप युवाओं को भ्रष्ट करने का काम करती है।

लिंग के आकार के फल नहीं खाएंगी महिलाएं

2Image Source: http://exposebd.com/

सुनने में जितना आपको यह अजीब लग रहा है उतना ही हमें इसे बताने में हंसी आ रही है, लेकिन यह मिस्त्र में हुआ है। यहां के एक मौलवी ने महिलाओं के पुरुषों के लिंग के आकार के फल खाने पर फतवा जारी कर दिया था। उन्होंने कहा कि महिलाएं केला और खीरे जैसे फलों को नहीं खा सकती और अगर खाना चाहती हैं तो कोई पुरुष उन्हें यह फल काटकर खिलाएगा।

टॉम ब्वॉय की तरह नहीं रहेंगी महिलाएं

3Image Source: http://tomboykc.com/

आज के वक्त में जहां महिलाएं पुरुषों से कंधा से कंधा मिलाकर आगे बढ़ रही हैं, वहां महिलाओं के लड़कों की तरह नहीं रह सकने का फरमान जारी हुआ। ऐसा फतवा मलेशिया के फतवा काउंसिल ने जारी कर दिया और कहा कि अगर महिलाएं लड़कियों की तरह ना रहकर लड़कों की तरह रहती हैं तो यह प्रकृति का उल्लंघन है।

मिकी माउस को मार देना चाहिए

4Image Source: https://gregcfuzion.files.wordpress.com/

आपको इस तरह के फतवे के बारे में जानकर हंसी जरूर आ रही होगी, लेकिन यह सच है।  दरअसल अरब के एक डिप्लोमेट जिनका नाम शेख मुहम्मत मुनाजिद है, उन्होंने मिकी माउस को शैतान का सिपाही बताया है। साथ ही कहा है कि मिकी माउस को तो मर जाना चाहिए। जिससे यह साबित होता है कि वह सबको इंटरटेन करने वाले मिकी माउस के कितने बड़े विरोधी हैं।

 शादी अमान्य हो जाएगी अगर…

imgImage Source: http://toddcreager.com/

यह एक ऐसा फतवा है जिसके बारे में जानकर आप खुद सोच में पड़ जाएंगे कि आखिर इसको जारी करने वाले ने क्या सोचकर इसको जारी किया होगा। काहिरा में एक अल-अजहर यूनिवर्सिटी है, जिसके डीन हसन खलील का मानना है कि अगर कोई जोड़ा शादी के बाद बिना कपड़ों के सेक्स करेगा तो शादी मान्य नहीं रहेगी। अरे भई अब आप ही सोचिए कि इस फतवे का क्या अर्थ है।

ससुर ने रेप किया तो हसबैंड को मानें बेटा

5Image Source: http://legionofleia.com/

यूपी के देवबंद में यह फतवा जारी हुआ था कि जिस महिला के साथ उसके ससुर ने रेप किया, वह महिला अब अपने ससुर के साथ पत्नी की तरह रहे और अपने पति को अपना बेटा मान ले। शुक्र इस बात का है कि इस मामले को कोर्ट ने अपने हाथ में ले लिया। जिसके बाद कोर्ट ने आरोपी ससुर को 10 साल की सजा सुनाई।

आदमियों के साथ काम करने के लिए उन्हें स्तनपान कराना जरूरी

6Image Source: http://www.lifewithbabykicks.com/

जिस तरह आपको इस फतवे के बारे में सुनकर अजीब लग रहा है, उतनी ही हमें इसे बताने में शर्म महसूस हो रही है। अरब के एक मौलवी ने यह फतवा जारी किया। उनका कहना है कि अगर कोई महिला और पुरुष साथ काम करेंगे तो महिला को उस पुरुष को स्तनपान कराना होगा, क्योंकि स्तनपान कराने से वह उसकी मां मानी जाएगी। ऐसे में सोचने वाली बात यह है कि फतवा जारी करने वालों की यह कितनी वाहियात सोच है।

7Image Source: http://ghk.h-cdn.co/

फतवों की यह अजीबो गरीब फेहरिस्त यहीं खत्म नहीं होती। अभी ना जाने कितने ही ऐसे फतवे हैं जिनको जानकर आप दंग रह जाएंगे। इनमें से एक यह रहा पाक के एक सबसे बड़े इस्लामी संगठन ने फतवा जारी किया कि दो बूंद जिंदगी की नहीं पिएंगे। जिसके चलते आज तक पाक पोलियों मुक्त नहीं हो पाया। वहीं, अरब में जारी हुए इस तरह के फतवे कि महिलाएं फुटबॉल नहीं देख सकतीं या फिर रोमेंटिक उपन्यास नहीं पढ़ सकतीं या फिर भूख लगने पर पति अपनी पत्नी को भी खा सकता है। वहीं, मोरक्को में जारी हुआ एक फतवा जिसमें मुस्लिम पुरुष अपनी मरी हुई पत्नी के साथ सेक्स कर सकते हैं।
इन सब के बावजूद सुकून सिर्फ इस बात का है कि लोग इनको मानने के लिए बाध्य नहीं हैं, वरना ना जाने क्या से क्या हो जाता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here