जमीन में दफ़न म्यूजियम का दरवाजा खुलते ही मिली वेम्पायर्स और एलियंस की बॉडी

म्यूजियम

 

दुनियां में ऐसी बहुत सी चीजें हैं जिनके बारे में लोगों को नहीं पता हालही में एक ऐसा ही म्यूजियम मिला है। यह म्यूजियम वर्षों से जमीन में दफ़न था और जब इसका दरवाजा खोला गया तो इसके अंदर की चीजें देख कर लोगों में हड़कंप मच गया। यहां से वैज्ञानिकों को ऐसी-ऐसी चीजें मिली जिनको आप आज तक सिर्फ कहानियों में ही सुनते आये हैं। बचपन में जब नानी या दादी हम लोगों को परियों की कहानियां सुनाती थी तब हम लोग उन पर यकीन करते लेते थे। मगर बड़े होने के बाद में वे सभी कहानियां काल्पनिक लगने लगी। आज हम जिस म्यूजियम के बारे में आपको यहां बता रहें हैं वह आपकी उन कहानियो को शायद यथार्थ कर देगा। इस म्यूजियम का दरवाजा खुलते ही उसके अंदर से कुछ ऐसी चीजें मिली, जिन्हे हम सिर्फ कहानियों में ही सुनते आएं है। आइये जानते हैं इस म्यूजियम के बारे में।

म्यूजियमImage Source:

सबसे पहले हम आपको बता दें कि इस म्यूजियम का नाम “मेरिलिन क्रीपिड म्यूजियम” है और यह लंदन में स्थित है। इस म्यूजियम के बेसमेंट को 2006 में खोला गया था। जब लोग इसके बेसमेंट के अंदर गए तो वे हैरान रह गए। असल में बेसमेंट के अंदर के भाग में उन्हें वेम्पायर्स, एलियंस, ड्रैगन्स जैसे कई मिस्टीरियस जानवरों के प्राचीन अवशेष मिले थे। माना जाता है कि यह कलेक्शन प्रोफेसर थॉमस थिओडोर मेरिलिन का है। आपको बता दें की प्रो मेरिलिन 18वीं सदी के एक विख्यात बायोलॉजिस्ट एवं आर्कियोलॉजिस्ट थे। इस कलेक्शन में कुछ ऐसी चीजें मिली जिनको सिर्फ कहानियों में ही सुनाया जाता रहा है जैसे पंखों वाली परी, वैम्पायर्स आदि। इस स्थान पर कुछ कांच के जारों में मानव हार्ट तथा अन्य अंग भी रखें पाए गए। शुरुआत में प्रो मेरिलिन के इस कलेक्शन को लोगों द्वारा फर्जी बताया गया था पर बाद में लोग उनके इस कलेक्शन की तारीफ करने लगे थे। आपको यह भी बता दें कि प्रो मेरिलिन 80 वर्ष की उम्र में भी महज 40 वर्ष के ही लगते थे।

To Top