_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2017/04/","Post":"http://wahgazab.com/this-indian-woman-sold-in-300000-rupees-in-saudi-arabia/","Page":"http://wahgazab.com/addd/","Attachment":"http://wahgazab.com/grooms-asks-dowry-in-the-nikah-and-bride-refuses-to-marry-him/2-370/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/28118/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=154","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

दुनिया की इस सबसे बड़ी दूरबीन के सहारे आप देख सकेंगे एलियंस और उनकी दुनिया को

दूरबीन का उपयोग दूर की वस्तुओं को देखने के लिए किया जाता है और आपने भी दूरबीन का उपयोग किया ही होगा पर क्या दूरबीन से एलियंस को देखा जा सकता है। असल में हालही में दुनिया की सबसे बड़ी दूरबीन बनाई गई है जिसका उपयोग अब एलियंस को देखने के अलावा अन्य कई प्रकार के रिसर्च कार्यों में किया जायेगा। आइये जानते हैं इस दूरबीन के बारे में।

aliens1Image Source:

दुनिया की यह सबसे बड़ी दूरबीन चीन ने बनाई है और इस दूरबीन को दक्षिण-पश्चिमी चीन में स्थित किया गया है। इस दूरबीन ने बीते रविवार को अपना कार्य शुरू कर दिया है। इस दूरबीन को बनाने का सबसे बड़ा उद्देश्य मानवीय मदद के लिए एलियंस लाइफ को खोजना है। इस दूरबीन का व्यास 500 मीटर का है और इसको दूरबीन के क्षेत्र में एक बड़ा कदम माना जा रहा है। इस दूरबीन का नाम “फाइव हंड्रेड मीटर एपर्चर स्फेरिकल टेलीस्कोप” यानि एफएएसटी रखा गया है। गुइजोऊ नामक पहाड़ी क्षेत्र में इस दूरबीन को स्थित किया गया है। चीन की एक समाचार एजेंसी के मुताबिक “दोपहर के आसपास इस दूरबीन ने काम करना शुरू कर दिया है, इस रेडियो दूरबीन में प्यूरतो रिको की एर्सिबो वेधशाला के मुकाबले सुदूर अंतरिक्ष से सिग्नल लेने की क्षमता न सिर्फ ज्यादा है बल्कि यह एलियन के भेजे संकेतक भी ग्रहण कर सकती है।”

aliens2Image Source:

1.2 बिलियन युआन (180 करोड़ अमेरिकन डॉलर) का खर्च इस दूरबीन के प्रोजेक्ट में आया है। इस दूरबीन ने इतनी जगह ग्रहण कर रखी है जितनी में 30 फुटबॉल के मैदान बन सकते हैं। अब आप ही इस दूरबीन के साइज का अंदाज लगा सकते हैं और यही कारण है कि इस दूरबीन को दुनिया की सबसे बड़ी दूरबीन का दर्जा हासिल है। सन 2011 में इस दूरबीन के निर्माण का कार्य शुरू किया गया था और इस जगह पर करीब 10000 लोगों को स्थान्तरित कर दिया गया था। विज्ञानी स्टीफन नग ची-यंग ने कहा है कि “चीनी सरकार शोध पर काफी धन खर्च करना चाहती है। इतना ही नहीं, सरकार दुनियाभर के खगोल विज्ञानियों के लिए भी अवसर पैदा करने की इच्छुक है। उन्होंने बताया कि अमेरिका और आस्ट्रेलिया सहित दुनियाभर से खगोल विज्ञानी भविष्य में उन्नत सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए चीन आना चाहेंगे।”

Most Popular

To Top