यहां भक्तों की श्रद्धा से पत्थर से निकलता है पानी

0
394

अपने देश में ऐसे कई प्रकार के धार्मिक स्थान हैं जहां पर कुछ इस प्रकार की घटनायें घटित होती हैं जो मानव की समझ से परे होती हैं। जहां तक विज्ञान का प्रश्न है वह भी इस प्रकार की घटनाओं के प्रसंगों पर मौन नजर आता है। कई धर्म और संप्रदायों से संबंधित इस प्रकार के स्थान आज हमारे यहां देखने को मिलते हैं। आज भी हम आपको एक ऐसे ही धार्मिक स्थान के बारे में बताने जा रहे हैं जहां पर स्थित एक पत्थर से भक्तों की श्रद्धा से पानी का रिसाव होता है।

कहां है यह स्थान –

यह झारखंड की राजधानी रांची से 20 किलोमीटर दूर “एडचोरो” नामक जगह है। इस स्थान पर भगवान शिव का एक मंदिर है। यह मंदिर पुराने समय से लोगों की आस्था का केंद्र रहा है। इस मंदिर का नाम “लादा महादेव टंगरा” है। यहां पर ही वह चट्टान स्थित है जहां से पानी का रिसाव होता है। इस मंदिर से लोगों की श्रद्धा जुड़े होने के कई कारण रहे हैं।

कैसे निकलता है पत्थर से पानी –

1Image Source: http://i9.dainikbhaskar.com/

इस मंदिर के प्रांगण में एक चट्टान स्थित है। इस चट्टान से ही पानी निकलता है। ऐसा कहा जाता है कि सच्चे मन से लादा महादेव टंगरा को याद कर के इस चट्टान पर यदि हाथ फेरा जाये तो इस चट्टान से पानी का रिसाव होने लगता है। रामनवमी पर इस मंदिर में मेला लगता है और विशेष पूजा की जाती है। इसके अलावा महाशिवरात्रि और सावन के विशेष अवसर पर भी यहां पर बड़े उत्सव होते है और बहुत दूर-दूर से लोग यहां दर्शन करने के लिए पहुंचते हैं। देखा जाए तो पूरे देश में यह एक अकेला ऐसा मंदिर है जहां पर पत्थर से पानी का रिसाव आपकी श्रद्धा और ईश्वर के प्रति आपकी भावना से ही निकलता है।

मंदिर से है राम का संबंध –

इस मंदिर से राम का संबंध भी रहा है। इससे सहज ही पता लगाया जा सकता है कि यह मंदिर कितना पुरातन है। हालांकि यह बहुत बड़ा मंदिर नहीं है, पर आज भी लोग इसके प्रति अपनी असीम श्रद्धा रखते हैं। इस मंदिर की विशेषता को लेकर कई कारण लोग बताते हैं। कई लोगों का मानना है कि यह मंदिर रामायण काल है। राम ने यहां पर अपने वनवास के दौरान कुछ समय बिताया था। इस मंदिर के परिसर में राम और सीता के “चरण चिन्ह” आज भी बने हुए हैं। मंदिर में आने वाले बहुत से लोग इन “चरण चिन्हों” के प्रति श्रद्धा रखते हैं।

2Image Source: http://i9.dainikbhaskar.com/

इस प्रकार देखा जाए तो यह अपनी तरह का एक अनोखा मंदिर है, जहां पर पत्थर से पानी निकलता है। पत्थर से पानी आखिर कैसे निकलता है, किन कारणों से निकलता है इस बारे में विज्ञान आज तक मौन है क्योंकि यहां पर चट्टान से पानी आपके मन की श्रद्धा के अनुसार ही पत्थर को स्पर्श करने पर निकलता है। खैर जो भी है, इस मंदिर के प्रति लोगों की असीम श्रद्धा आज भी बनी हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here