इस युवक को राक्षस मानते हैं गांव वाले, स्कूल वालों ने भी बंद की इसकी पढ़ाई

राक्षस

 

आपने राक्षस या दानव जैसे शब्द पौराणिक कहानियों में पढ़ें या सुने होंगे, पर आज हम आपको मिलवा रहें है एक ऐसे शख्स से जिसको उसके गांव के लोग ही राक्षस कहते हैं। जी हां, वैसे तो राक्षस या दानव जैसे शब्द पौराणिक कहानियों में ही मिलते हैं, पर आज हम आपको जिस युवक के बारे में बताने जा रहें हैं उसको लोग राक्षस ही कहते हैं। अपन देश का यह युवक एक ऐसी बीमारी से ग्रस्त है जिसमें इसके हाथ सामान्य आकार से कुछ ज्यादा ही बड़े हो गए हैं। इस युवक का नाम तारिक है और यह उत्तर प्रदेश के एक गांव का निवासी है। तारिक की उम्र महज 12 वर्ष है। इसकी अजीब बीमारी को लेकर बहुत से लोग हैरान है।

राक्षसImage Source: 

तारिक के गांव में अंधविश्वास की जड़ें गहरी हैं, इसलिए गांव के स्थानीय निवासी उसकी इस बीमारी को एक श्राप मानते हैं। गांव के ही बहुत से लोग तारिक को राक्षस या दानव भी कहते हैं। तारिक की इस बीमारी को डॉक्टरों को भी दिखाया गया है, पर असल बीमारी की जड़ का उनको भी पता नहीं है। डॉक्टरों का कहना है कि तरीक को हुई यह बीमारी ‘एलीफैंट फुट डिसीज़’ की बीमारी हो सकती है।

राक्षसImage Source: 

तारिक की हालत कुछ ऐसी है कि उसको छोटे मोटे कामों के लिए भी किसी अन्य व्यक्ति की सहायता लेनी पड़ती है। तारिक का छोटा भाई हरज्ञान उसके बहुत से कार्यों में उसका सहायक बनता है। तारिक की बीमारी के कारण उसको शिक्षा नहीं मिल पाई। असल में स्कूल के लोगों ने उसको दाखिला देने से ही मन कर दिया है। उन लोगों का कहना है कि तारिक के बड़े हाथ देखकर लोग डर जाएंगे। इस प्रकार बीमारी की वजह से तारिक को तालीम से भी हाथ धोना पड़ा। तारिक की बुआ उसके बारे में कहती है कि “तारिक दूसरे लोगों पर पूरी तरह से आश्रित है। हम लोग उसका ख्याल रखते हैं। जब उसके पापा थे, तब वे किसी न किसी डॉक्टर को दिखाते ही रहते थे, पर अब वह सिलसिला बंद हो गया है।”, कुल मिलाकर अभी तक तारिक को उसकी बीमारी का कोई इलाज नहीं मिला है, लेकिन हम दुआ करते हैं कि वह जल्दी ही सही हो जाए।

To Top