इस झील में है करोड़ों का खजाना

0
500

जैसा कि आप जानते हैं कि हमारे देश में बहुत सी ऐसी जगहें हैं जो अपने किसी न किसी आश्चर्य की वजह से जन साधारण में काफी प्रसिद्ध हैं। हम आज आपको ऐसी ही एक जगह के बारे में बता रहे हैं जो किसी आश्चर्य से कम नहीं है। असल में यह एक झील है जिसमें करोड़ों रुपए का खजाना दफ़न है। इस झील में लाखों रुपए आप ऊपर से ही देख सकते हैं। सबसे आश्चर्य की बात तो यह है कि इस झील का खजाना प्रति वर्ष बढ़ता जा रहा है। किसी झील की तलहटी में खजाना दफन होने की बात सुनकर आश्चर्य सा लगता है पर हिमाचल प्रदेश की पहाड़ियों के बीच एक ऐसी झील मौजूद हैं जहां लाखों-करोड़ों का खजाना मौजूद होने की बात की जाती है। ये झील मंडी जिले से करीब 60 किलोमीटर दूर है और इसका नाम है कमरुनाग झील।

कमरुनाग झील —
इस झील की बात करें तो यहां पर लगने वाले मेले में हर साल भक्तों की भारी भीड़ जुटती है। मान्यताओं के अनुसार भक्त झील में सोने-चांदी के गहने और पैसे डालते हैं। सदियों से चली आ रही इस परंपरा के आधार पर माना जाता है कि झील के गर्त में अब तक करोड़ों रुपए खजाना का दब चुका है। गर्मी के मौसम में सोने-चांदी के जेवर साफ नजर आते हैं। मान्यता है कि झील में सोना-चांदी चढ़ाने से मन्नत पूरी होती है। इसी कारण लोग श्रद्धा से यहां अपने शरीर का कोई गहना चढ़ा देते हैं। झील पैसों से भी भरी रहती है। ये सोना-चांदी कभी भी झील से निकाला नहीं जाता।

kamrunag lakeImage Source: http://www.himachalhotels.in/

कौन हैं कमरुनाग–
कमरुनाग को महाभारत का साक्षी माना जाता है। हिमाचल में नागों में सबसे प्रसिद्ध कमरुनाग हैं। जानकार कहते हैं कि सन् 1911 में सीसी गारवेट मंडी राज्य के अंग्रेज अधिकारी ने कमरुनाग की प्रसिद्धि की बातें सुनने पर इस क्षेत्र का दौरा किया था। उसने जब लोगों को झील में अमूल्य वस्तुएं फेंकते हुए देखा तो सोचा कि लोग व्यर्थ में ही इतना धन एवं कीमती वस्तुएं, जेवर झील में फेंकते हैं। क्यों न इस झील से सारा धन निकाल राज्य के खजाने में डाल कर इसका उपयोग किया जाए। राजा ने भी बात मान ली परंतु पुजारी व भक्तों ने इसका कड़ा विरोध किया। इसके बाद भी राजा और अंग्रेज अधिकारी अपने साथियों सहित झील की ओर चल पड़े। झील की तरफ चलते ही भयंकर बारिश शुरू हो गई। उन्हें बारिश ने एक कदम भी आगे चलने नहीं दिया। मजबूर होकर उन्हें रुकना पड़ा। वहां अंग्रेज अधिकारी ने फल खाया और वह बीमार पड़ गया। लोगों ने जब उन्हें कमरुनाग की शक्ति के बारे में बताया तो वे घबरा गए। अंग्रेज अधिकारी सीसी गारवेट को वापस लौटना पड़ा और वह सीधा इंग्लैंड जाने के लिए मजबूर हो गए।

इस प्रकार से और भी कई ऐसी कहानी मौजूद है जो वहां के लोगों को मालूम है। ये सब लोग इन पर विश्वास करते हैं। खैर जहां तक बात इस झील की है तो झील में अभी भी करोड़ों का खजाना होने की बात सत्य है और आप स्वयं इसको देख सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here