आज का इतिहास- सिल्वर स्क्रीन की पहली नायिका देविका का जन्म

0
459

30 मार्च का दिन हिन्दी फिल्मों की दुनिया के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण रहा है। आज के दिन सन् 1908 में भारतीय रजतपट (सिल्वर स्क्रीन) की पहली स्थापित नायिका देविका रानी का जन्म हुआ था। उन्होंने फिल्मों के माध्यम से इस क्षेत्र में अपना करियर उस समय बनाया जब समाज में महिलाओं को कई तरह के बंधनों में बंध कर रहना पड़ता था। उन्होंने जिस भी फिल्म में काम किया उसके माध्यम से जर्जर सामाजिक मान्यताओं व रूढ़ियों को चुनौती दी।

imgImage Source: http://images1.raftaar.in/

देविका ने अपने करियर में लगभग 15 फिल्में की। उन्होंने जिस भी फिल्म में काम किया उसे क्लासिक की मान्यता दी गई। उनकी फिल्में सामाजिक सरोकारों से संबंधित होती थीं, जिनके द्वारा भारतीय फिल्मों को एक नया स्थान प्राप्त हुआ। देविका रानी को सोवियत लैंड नेहरू पुरस्कार व दादा साहब फाल्के पुरस्कार समेत कई पुरस्कारों से सम्मानित किया गया।

30 मार्च को विश्व में घटी कुछ अन्य महत्वपूर्ण घटनाएं-

1842 – बेहोशी की दवा के रूप में ईथर का पहली बार इस्तेमाल हुआ।
1856 – रूस ने पेरिस शांति समझौते पर हस्ताक्षर कर क्रीमिया युद्ध के समाप्ति की घोषणा की।
1867 – अमेरिका ने 72 लाख डॉलर में अलास्का को रूस से खरीदा।
1908- सिल्वर स्क्रीन की पहली स्थापित नायिका देविका रानी का विशाखापत्तनम में जन्म।
1919 – बेल्जियम की सेना ने जर्मनी के डुसेलडॉफ शहर पर कब्जा किया।
1919 – महात्मा गांधी ने रॉलेक्ट एक्ट के विरोध की घोषणा की।

gandhiImage Source: http://3.bp.blogspot.com/

1945- सोवियत संघ ने आस्ट्रिया पर आक्रमण किया।
1949 – राजस्थान राज्य का गठन हुआ।
1950 – मर्रे हिल ने फोटो ट्रांजिस्टर का अविष्कार किया।
1963 – फ्रांस ने अल्जीरिया के इकर क्षेत्र में भूमिगत परमाणु परीक्षण किया।
1977- स्वामी अग्निवेश ने अपनी भारतीय आर्यसभा पार्टी का जनता पार्टी में विलय कर दिया।
1992 – प्रसिद्ध फिल्मकार सत्यजीत रे को  मानदऑस्कर अवार्ड (ऑनररी अवार्ड, लाइफटाइम अवार्ड के समकक्ष) से सम्मानित किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here