_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2017/12/","Post":"http://wahgazab.com/one-of-the-top-5-south-indian-movie-that-earns-a-lot-of-fortune/","Page":"http://wahgazab.com/aadhaar/","Attachment":"http://wahgazab.com/?attachment_id=43757","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/37779/","Custom_css":"http://wahgazab.com/flex-mag/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=38240","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

यह पुलिस स्टेशन अपराधियों को देता हैं रोजगार के लिए प्रशिक्षण और दिलाता हैं नौकरी

पुलिस स्टेशन

 

आपने पुलिस को अपराधियों को पकड़ते हुए तो कई बार देखा होगा, पर यहां जिस पुलिस स्टेशन के बारे में बताया जा रहा हैं वह अपराधियों को पकड़कर उनको नौकरी भी दिलाता हैं। जी हां, आज हम आपको जिस पुलिस स्टेशन के बारे में बता रहें हैं, वह अपने आप में अनोखा हैं। अनोखा इसलिए हैं क्योंकि जहां एक और पुलिस अपराधियों को पकड़ कर उनको दंड देती हैं वहीं इस पुलिस स्टेशन में अपराधियों को रोजगार के लिए प्रशिक्षण दिया जाता हैं साथ ही उनकी नौकरी पाने में भी सहायता की जाती हैं।

पुलिस स्टेशनImage Source:

आपको बता दें कि यह अनोखा पुलिस स्टेशन दिल्ली के कीर्ति नगर इलाके में हैं। इस क्षेत्र की बात करें तो यहां पर करीब ढाई सौ झुग्गियां हैं। इस क्षेत्र में जो लोग जाने अनजाने में अपराध की दुनिया में कदम रख लेते हैं उनको इस पुलिस स्टेशन में रोजगार के लिए प्रशिक्षण दिया जाता हैं और नौकरी भी दिलाई जाती हैं। यहां के एसएचओ बताते हैं कि यहां पर करीब ढाई सौ युवक युवतियां कौशल विकास ट्रेनिंग ले रहें हैं। बीते गुरूवार को जेल की बैरक नंबर 209 में बड़ी कंपनियों के अधिकारियों ने इन सभी का इंटरव्यू लिया था।

पुलिस स्टेशनImage Source:

इस प्रकार से देखा जाए तो यह थाना समाज में बहुत से सकारात्मक कार्य कर रहा हैं। आज भी बहुत से लोग रोजगार न मिलने के कारण आपराधिक जगत में प्रवेश कर जाते हैं। ऐसे लोगों के लिए यह थाना एक बड़ा सहायता केंद्र हैं। जेल के इन ढाई सौ युवाओं में एक युवक चोरी के केस में जेल में था। उसने यहां 3 महीने का हार्डवेयर नेटवर्किंग का कोर्स किया था। इसके अलावा एक युवती अपने पति के मर्डर केस में यहां सजा काट रही थी। उसने भी यहां रोजगार प्रशिक्षण लिया और अब उसकी नौकरी एक बड़े अस्पताल में लग गई हैं। इस प्रकार बहुत से आपराधिक छवि वाले लोग अब समाज की मुख्य धारा से जुड़ने लगें हैं

Most Popular

To Top