_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2017/02/","Post":"http://wahgazab.com/actress-nisha-noor-once-a-famous-star-but-had-a-tragic-death/","Page":"http://wahgazab.com/addd/","Attachment":"http://wahgazab.com/?attachment_id=35217","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/28118/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=154","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

नया नियम – आधार कार्ड लाओ और दुल्हन को ले जाओ

देखा जाये तो आज के समय में शादियां काफी पेचीदा हो चुकी हैं, आज के समय में आप यदि कोर्ट से शादी करें या पारिवारिक माहौल में आपको काफी सारे सामानों की जरुरत तो होती है पर आज हम आपको देश के एक ऐसे स्थान के बारे में बताने जा रहें हैं जहां पर शादी करने के लिए आपके पास में बस आधार कार्ड होना जरुरी है, यदि आपके पास में आधार कार्ड है तो आप यहां बेहिचक शादी कर सकते हैं अन्यथा आपकी शादी नहीं हो सकती है। आइये जानते हैं देश के इस स्थान के बारे में।

golu-devta-templeghorakhalnainitaltemples1Image Source:

आधार कार्ड को शादी के लिए अनिवार्य करने वाला यह स्थान उत्तराखंड के अलमोड़ा में स्थित एक मंदिर है, यह मंदिर चितई में स्थित है। असल में यहां पर जो मंदिर है उसमे लगभग रोज ही शादियां होती है, यह गोलू देवता का मंदिर है और गोलू देवता को कुमाऊं क्षेत्र में न्याय के देवता के रूप में पूजा जाता है।

golu-devta-templeghorakhalnainitaltemples2Image Source:

इस मंदिर में प्रतिवर्ष 400 शादियां होती ही हैं पर देखने में आया है यहां पर काफी मात्रा में नाबालिग लोगों की शादियां भी हो रही थी, जिसके कारण प्रशासन ने यहां पर शादी करने वाले जोड़ों के लिए आधार कार्ड अनिवार्य कर दिया है, प्रशासन का कहना है कि आधार कार्ड के अलावा किसी प्रकार का वोटर कार्ड या ड्राइविंग लाइसेंस नहीं चलेगा। यह कारण है कि अब जिस किसी के पास में आधार कार्ड नहीं है वह शादी नहीं कर सकता है।

Most Popular

To Top