हनुमान जयंती विशेष – हनुमान मंदिर के लिए मुस्लिम शख्स ने जमीन देकर की मिसाल कायम

0
442

 

अपने देश में मंदिर और मस्जिद सहित कई ऐसे धार्मिक स्थान है, जिनका निर्माण किसी अन्य धर्म के व्यक्ति द्वारा अपनी श्रद्धा से कराया गया हो, वर्तमान में भी एक मुस्लिम शख्स ने भगवान हनुमान के मंदिर के लिए अपनी जमीन देकर कौमी एकता की मिसाल कायम की है। समाज में ऐसे भी बहुत से लोग हैं जो धर्म के नाम पर दंगे फसाद को तरजीह देते हैं और इस प्रकार के लोग आपको हर धर्म में मिलेंगे, पर यह भी सत्य है कि समाज एक दूसरे के जुड़कर ही आगे बढ़ता है और जो लोग इस बात को समझते हैं, वे लोग समय-समय पर समाज के सभी लोगों को आपस में बांधने के लिए कुछ इस प्रकार के कार्य करते ही रहते हैं। जिसकी वजह से आपसी तालमेल और प्रेम कायम रहता है। इसी क्रम में हालही में एक मुस्लिम व्यक्ति ने अपनी श्रध्दा से हिंदू समाज को हनुमान मंदिर बनाने के लिए जमीन दी है, आइए आपको हम इस खबर के बारे में विस्तार से बताते हैं।

Image Source:

यह खबर बिहार राज्य से हैं यहां के जिला बेगूसराय के अंतर्गत आने वाले बखरी प्रखंड का हनुमान मंदिर वर्तमान में हिंदू-मुस्लिम भाईचारे का प्रतीक बना हुआ है। आपको बता दें कि इस मंदिर के लिए यहां के ही स्थानीय निवासी “मुहम्मद मुर्तजा” ने अपनी जमीन मंदिर निर्माण के लिए दी थी तथा मंदिर निर्माण में भी मुस्लिम लोगों ने हिंदू लोगों का भरपूर साथ दिया। इस प्रकार से यह भव्य मंदिर बनकर तैयार हो चुका है तथा धर्म के नाम पर दंगे करने वालों के लिए यह मंदिर एक सबक है। आपको बता दें कि बखरी थाने से कुछ ही दूरी पर भगवान हनुमान की प्राचीन प्रतिमा लगी थी और अपनी जमीन न होने के कारण मंदिर निर्माण के समय यहां तनाव बढ़ जाता था, इसलिए स्थिति यह थी कि न तो प्रतिमा बदली जा सकती थी और न ही मंदिर बन सकता था, इसलिए थाना प्रभारी ने दोनों पक्षों की बैठक बुलाई और इस बैठक में जमीन के मालिक “मुहम्मद मुर्तजा” ने अपनी खुशी से मंदिर निर्माण के लिए जमीन दे दी। जिसके बाद में हिन्दू तथा मुस्लिम लोगों ने साथ में इस मंदिर का निर्माण किया, जो की रामनवमी के दिन पूरा हो गया था। इस अवसर पर हिन्दू तथा मुस्लिम लोगों ने साथ में प्रसाद बना कर लोगों को वितरित भी किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here