_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2018/06/","Post":"http://wahgazab.com/check-out-the-first-tv-commercial-of-dabbu-uncle-and-the-dance-he-did/","Page":"http://wahgazab.com/aadhaar/","Attachment":"http://wahgazab.com/this-infant-started-to-walk-just-after-birth-doctors-are-surprised/video-8/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/37779/","Custom_css":"http://wahgazab.com/flex-mag/","Oembed_cache":"http://wahgazab.com/ea6a6e77ca639bd8e8c69deaa8f1ad28/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=38240","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

रोजाना जहरीली छिपकलियों को खाता है यह व्यक्ति

आज तक आपने टीवी पर कई ऐसे रियलिटी शो देखें होंगे जिसके प्रतिभागी अपने शो में कई खतरनाक काम को अंजाम देते हैं। यह प्रतिभागी तो शो का हिस्सा होने के कारण ऐसा करते हैं, लेकिन आज हम आपको ऐसे शख्स के बारें में बताने जा रहें हैं जो हर रोज छिपकलियों को खाता है। इस शख्स को छिपकलियां खाना बेहद ही पंसद है। इतना ही नहीं आपको यह जानकर भी बड़ी हैरानी होगी है इस आदमी को बिना छिपकलियों का सूप पिए नींद नहीं आती है।

Men Eats Lizard,Lizard,Madhya pradesh,1Image Source:

कौन है यह शख्स और कहां रहता है
दुनिया में कई लोग ऐसे है जो कुछ हट कर काम करते है। यही काम इन आदमियों को आम लोगों की भीड़ से अलग करते हैं। आज हम जिस शख्स की बात कर रहें हैं, उसे छिपकलियों से बिल्कुल भी डर नहीं लगता हैं। इतना ही नहीं यह शख्स छिपकलियों को मार कर खा जाता है। मध्यप्रदेश के छोटे से गांव मैना में रहने वाले कैलाश को छिपकलियों को खाना बेहद ही पसंद है। जो भी व्यक्ति इसके विषय में जानता है वो हैरान रह जाता है और कैलाश से मिलकर इस बात की सत्यता को स्वयं अपनी आंखों से देखने के लिए कैलाश के गांव पहुंच जाता है। छिपकलियों को खाने के कारण ही अब कैलाश को विष पुरूष नाम से भी जाना जाने लगा है।
कैलाश करीब बीस वर्षों से छिपकलियों को उबालकर खा रहें हैं। इतना ही नहीं वो जिस पानी में छिपकलियों को मार कर उबालते है वो उसेs भी पी जाते है। लोग इस बात से बेहद ही हैरान है कि आखिर छिपकलियों के जहर से भी उन्हें किसी प्रकार का नुकसान कैसे नहीं होता। कैलाश को करीब तीन छिपकलियों का सूप पिए बैगर रात को नींद नहीं आती है। कैलाश अभी तक 60 से अधिक रेंगने वाले कीड़ों का खा चुके हैं।

Image Source:
To Top