_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2017/10/","Post":"http://wahgazab.com/diwali-is-not-just-associated-with-the-story-of-lord-shri-ram-there-are-many-other-stories-which-defines-its-significance/","Page":"http://wahgazab.com/aadhaar/","Attachment":"http://wahgazab.com/diwali-is-not-just-associated-with-the-story-of-lord-shri-ram-there-are-many-other-stories-which-defines-its-significance/slaughter-of-narakasura/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/37779/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=38240","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

सुनहरी कोठी – रावण के सोने के महल से अलग अपने देश में भी है यह सोने का महल

सोने के घर की जब कभी भी बात आती है तो रावण के श्रीलंका में बने “सोने के महल” का नाम जरूर आता है पर बहुत कम लोग जानते हैं कि अपने देश में भी सोने का महल बना था जो की आज भी है। आज हम आपको उसी सोने के महम के बारे में बता रहें हैं जिसको “सुनहरी कोठी” कहा जाता है। आइये जानते हैं इस सुनहरी कोठी के बारे में।

sunehri-kothi-tonkmonument-in-tonk-indiarajasthanImage Source:

सुनहरी कोठी को सोने के जड़ित कराया गया था। इसके अलावा इसमें शीशे तथा नक्काशी का काम भी बहुत ज्यादा हुआ था, जिसके कारण यह बहुत खूबसूरत दिखाई देती थी। आज भी इसकी खूबसूरती की कोई मिसाल नहीं है। यही कारण था कि इसकी बनावट के समय से ही इसको “सुनहरी कोठी” नाम दिया गया। सुनहरी कोठी नामक यह महल राजस्थान के टोंक जिले में स्थित है लेकिन दुर्भाग्य की बात यह है कि यह पिछले 10 साल से यह बंद पड़ी है।

sunehri-kothi-tonkmonument-in-tonk-indiarajasthan1Image Source:

इस कोठी को जब निर्मित कराया गया था तब सोने की कीमत मात्र 15 रूपए तोला थी और उस समय यह कोठी 10 लाख रूपए में निर्मित हुई थी। इस कोठी में फारसी तथा राजपूत शैली को इसके निर्माण में अपनाया गया था। इस कोठी की छत एवं दीवारों पर गुलाबी रंग के कलात्मक फूल दिखाई देते हैं तथा इसमें सोने और कांच को इतनी सुंदर शैली से लगवाया गया है कि देखने वाले देखते ही रह जाते हैं। इस कोठी के पिलर भी बहुत सुंदर और कलात्मक है जो की देखने में बहुत खूबसूरत लगते हैं। 1824 में टोंक के नवाब अमीर खां ने इस कोठी का निर्माण शुरू कराया था, लेकिन नवाब इब्राहिम अली खां के समय में यह कोठी अपने पुरे रंग-रूप में सामने आई।

Most Popular

Latest Hindi Songs Lyrics
Latest Punjabi Songs Lyrics
Latest HIndi Movies Songs Lyrics
To Top
Latest Hindi Songs Lyrics
Latest Punjabi Songs Lyrics
Latest HIndi Movies Songs Lyrics
Latest Punjabi songs
Latest Punjabi songs 2017 by Mr Jatt