कुछ ऐसी फिल्में जिन्हें सेंसर ने किया बैन

-

देश में फिल्म की मानकता को तय करने के लिए सेंसर बोर्ड का निर्माण किया गया। कुछ फिल्में ऐसी हैं जिनको सेंसर बोर्ड द्वारा समाज में गलत प्रभाव डालने वाली बताकर बैन कर दिया गया। भारतीय फिल्मों से आपत्तिजनक दृश्यों पर कैंची चलाने वाले सेंसर बोर्ड को विश्वभर में जाना जाता है।

दरअसल समाज की शांति और व्यवस्था पर विपरीत प्रभाव डालने वाली फिल्मों के दृश्यों और फिल्मों को प्रदर्शित न होने देने के लिए ही इस प्रमाणन संस्था का गठन किया गया। जानते हैं ऐसी ही कुछ फिल्मों के बारे में जो सेंसर बोर्ड की कसौटियों पर खरी नहीं उतर पाई और सिनेमा घर तक नहीं पहुंच सकीं।

 

1, मस्तीजादे 2015-

MastizaadeImage Source: http://aajkikhabar.com/

इस फिल्म की थीम सेक्स और कॉमेडी का मिश्रण थी। इस कारण भी इस फिल्म को सेंसर बोर्ड ने थिएटरों तक नहीं आने दिया। फिल्म अभिनेत्री सनी लियोनी मुख्य किरदार में थी। सीएफबीसी ने इस फिल्म को भारतीय दर्शकों के लिए कामोत्तेजक करार देते हुए जून 2015 में बैन कर दिया था, जिसके बाद कई दृश्यों की कांट छांट कर उसे रिलीज किया गया था।

 

2, कामसूत्र 1996-

KamasutraImage Source: http://i.imgur.com/

16वीं शताब्दी पर आधारित मीरा नायर की यह फिल्म प्रेम पर आधारित थी। जानकारों के मुताबिक विश्व में इस फिल्म के निर्देशक और कलाकारों के काम को खूब सराहा गया था, लेकिन अधिक उत्तेजक दृश्यों व अनैतिक संबंधों के कारण फिल्म को दर्शकों के लिए प्रदर्शित नहीं किया गया।

 

3, क्या कूल हैं हम 2015-

Kya cool hai humImage Source: http://s1.dmcdn.net/

लोग इस फिल्म के प्रीक्वल को पहले ही देख चुके हैं। जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि इसके नए पार्ट में क्या कुछ देखने को मिल सकता है। वहीं, तीसरे पार्ट में नया मसाला प्रदान करने के लिए निर्देशक पूरी कोशिश कर रहे हैं। इस फिल्म में असभ्यता और अश्लीलता की सभी हदें पार कर दी गई। जिसमें कई दृश्यों को काटने के लिए कहा गया है और फिल्म को बैन किया गया है।

 

4, फायर 1996-

Fire

इस फिल्म को विदेशों में बहुत पसंद किया गया। अभिनेत्री तब्बू ने इस फिल्म में महिलाओं के बीच के अनैतिक संबंधों को प्रदर्शित किया है। इसी कारण इस फिल्म को भारत में रिलीज नहीं किया गया।

 

5, ब्लैक फ्राइडे 2007-

Black FridayImage Source: http://viralstories.in/

यह फिल्म ब्लैक फ्राइडे किताब पर आधारित थी। यह फिल्म मुम्बई 1993 वर्ष में हुए सीरियल बम धमाकों की पटकथा पर बनाई गई थी। संवेदनशील विषय और न्यायालय में विचाराधीन मामला होने के कारण फिल्म को न्यायालय का फैसला आने तक रोक लगाई गई थी।

 

6, सिंस 2005-

sinsImage Source: http://imovies4you.com/

इस फिल्म में जीवन के खराब पहलू को दर्शाया गया था। इसमें केरल के एक धर्माध्यक्ष के द्वारा महिला के साथ बनाए गए शारीरिक संबंधों की कहानी को दिखाया गया। वासना की लालसा और अन्य दृश्यों के कारण व कैथोलिक समुदाय के विरोध के कारण इसको बैन कर दिया गया।

Share this article

Recent posts

भारत सरकार ने तीसरी बार दिया चीन को बड़ा झटका, Snack Video समेत 43 ऐप्स पर लगा दिया बैन

भारत और चीन के बीच चल रहे विवाद को देखते हुए एक बार फिर से भारत सरकार ने चीन को एक बड़ा झटका दिया...

इंटरनेशनल एमी अवॉर्डस 2020: निर्भया केस पर बनी सीरीज ने जीता बेस्ट ड्रामा अवॉर्ड

कोरोनावायरस की वजह से जहां हर किसी के लिए यह साल काफी मनहूस रहा है तो वहीं दूसरी ओर इस महामारी के बीच कुछ...

कामाख्या मंदिर में मुकेश अंबानी ने दान किए सोने के कलश, वजन जान भौचक्के हो जाएंगे

भारत के सबसे रईस उद्यमी मुकेश अम्बानी किसी ना किसी काम के चलते सुर्खियो में बने रहते है। आज के समय में अम्बानी परिवार...

कुंवारी लड़कियों के खून से नहाती थी ये महिला, वजह कर देगी आपको हैरान

अक्सर हम अखबारों में हत्या मारपीट की घटनाओं के बारें में रोज पढ़ते है। लेकिन कुछ लोग अपने शौक को पूरा करने के लिए...

आसमान से गिरी ऐसी अद्भुत चीज़, जिसे पाकर रातों रात करोड़पति बन गया यह आदमी

जब आसमान से कुछ आती है तो लोग आफत ही जानते हैं। लेकिन अगर यह कहें कि आसमान से आफत नहीं धन वर्षा हुई...

Popular categories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recent comments