19वीं शताब्दी में जन्मी महिला के जीवित रहने का सच क्या है!

कहते है जब इंसान मन से बूढ़ा हो जात है तो तन भी उसका साथ छोड़ देता है। इसलिए जो लोग तन-मन से अपने को जवां बनाए रखते हैं तो वो कई अपनी लंबी उम्र को भी पार करने की शिद्द्त रखते हैं, जिस प्रकार से इटली के शहर में रहने वाली एक महिला ने 117 साल की उम्र को पार कर दिखाया है। जी हां, ये बात बिल्कुल सच है। एम्मा मोरानो नाम की इस महिला ने अभी हाल ही में अपने 117 साल पूरे करके गिनीज विश्व रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज करा लिया है। यह दुनिया की सबसे बुजुर्ग जीवित महिला हैं, इनका जन्म 29 नवंबर 1899 को हुआ था।

emma-morano1Image Source:

मोरानो अब तक तीन शताब्दियां देख चुकी है’’। इतनी लंबी उम्र के बारे में वो बताती है कि वह अपने खाने में हर रोज दो अंडे और कुकीज को लेना पसंद करती है। मोरानो पिछले बीस साल से अपने दो कमरे के एक छोटे से घर में रह रहीं हैं। अपने आसपास कोई ना होने के कारण उन्हें अब एकांत में रहना अच्छा लगता है। शादी के बाद उनका एक बेटा था, जिसकी सन 1938 में मौत हो गई। उसके बाद पति से लड़ाई झगड़े के चलते उसे छोड़कर वह एक घर में अकेली रहने लगी।तब से लेकर अब तक उन्होंने अपने जीवन की अपने दम पर ही लड़ाई लड़ी और इस अवस्था को पार कर गई। पर हाल ही में उनकी सेवा के लिए एक सेवक मिल गया। अब काफी उम्र हो जाने के कारण वो बड़ी ही मुश्किल से बोल और सुन पाती हैं। उनकी आखें भी कमजोर हो गई है।

To Top