_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2018/06/","Post":"http://wahgazab.com/%e0%a4%95%e0%a4%ae%e0%a4%be%e0%a4%b2-%e0%a4%95%e0%a4%be-%e0%a4%87%e0%a4%82%e0%a4%9c%e0%a5%80%e0%a4%a8%e0%a4%bf%e0%a4%af%e0%a4%b0-%e0%a4%aa%e0%a5%87%e0%a4%a1%e0%a4%bc-%e0%a4%aa%e0%a4%b0-%e0%a4%ac/","Page":"http://wahgazab.com/aadhaar/","Attachment":"http://wahgazab.com/%e0%a4%95%e0%a4%ae%e0%a4%be%e0%a4%b2-%e0%a4%95%e0%a4%be-%e0%a4%87%e0%a4%82%e0%a4%9c%e0%a5%80%e0%a4%a8%e0%a4%bf%e0%a4%af%e0%a4%b0-%e0%a4%aa%e0%a5%87%e0%a4%a1%e0%a4%bc-%e0%a4%aa%e0%a4%b0-%e0%a4%ac/%e0%a4%87%e0%a4%b8-%e0%a4%98%e0%a4%b0-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%ac%e0%a4%a6%e0%a5%8c%e0%a4%b2%e0%a4%a4-%e0%a4%ac%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%b0%e0%a4%bf%e0%a4%95%e0%a5%89%e0%a4%b0%e0%a5%8d%e0%a4%a1/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/37779/","Custom_css":"http://wahgazab.com/flex-mag/","Oembed_cache":"http://wahgazab.com/705a904e083c70cef81a3db17f0d9064/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=38240","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

‘सुल्तान’ के गुडविल एंबेस्डर बनने पर खेल जगत में दो फाड़

जैसा कि आप सब जानते हैं कि बॉलीवुड के ‘सुल्तान’ को रियो ओलंपिक के लिए गुडविल एंबेस्डर बना दिया गया है। जिसका एक मकसद तो शायद उनकी आगामी फिल्म ‘सुल्तान’ का प्रमोशन भी है, जिसमें सलमान एक पहलवान की भूमिका में नजर आने वाले हैं। वहीं, आईओए महासचिव के मुताबिक इसका दूसरा सबसे बड़ा मकसद लोगों को ज्यादा से ज्यादा ओलंपिक से जोड़ना था। जिसके कारण लोग इसे ज्यादा से ज्यादा देखें। ऐसे में सलमान को इसका गुडविल एंबेस्डर बनाने से ओलंपिक खेलों को लोकप्रिय बनाने में काफी मदद मिलेगी, क्योंकि 50 की उम्र में भी सलमान यूथ आइकन हैं। उनके लिए लोगों की दिवानगी साफ दिखती है। वहीं, आईओए ने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा कि उनके इस उद्देश्य के चक्कर में खेल जगत में इतना बड़ा घमासान मच जाएगा कि खेल जगत में ही दो फाड़ हो जाएगी। जी हां, कई खिलाड़ियों ने इस फैसले के खिलाफ अपनी नाराजगी जाहिर की है।


Salaman-111Image Source :http://www.patrika.com/

पहलवान योगेश्वर दत्त की नाराजगी

SalmamaamamaamImage Source :https://twitter.com/

योगेश्वर दत्त ने सलमान के गुडविल एंबेस्डर बनने पर आपत्ति जताई है। उनका कहना है कि “सलमान को गुडविल एंबेस्डर बनाने से मेडल ज्यादा आ जाएंगे क्या?, ये नाटक ही करना था तो किसी भी खिलाड़ी को बना देते।” वहीं योगेश्वर ने कहा कि “दूत का काम क्या होता है कोई मुझे बता सकता है क्या। आखिर क्यों देश की जनता को पागल बनाया जा रहा है।” योगेश्वर के मुताबिक “जब पीटी ऊषा, मिल्खा सिंह जैसे बड़े स्टार हैं जिन्होंने कठिन समय में देश के लिए मेहनत की, लेकिन इस गुडविल एंबेस्डर (सलमान) ने क्या किया है?”

twiterImage Source :https://twitter.com/

फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह का ऐतराज

इस मामले में मिल्खा सिंह ने भी अपनी नाराजगी साफ जाहिर की है। उन्होंने पहले तो स्पष्ट किया है कि “मैं सलमान के खिलाफ नहीं हूं, लेकिन आईओए ने ये फैसला गलत किया है। ऐसे में सरकार को इस मामले में अपना हस्तक्षेप जरूर करना चाहिए।” इस दौरान मिल्खा सिंह ने कहा कि “मैं एक सवाल पूछना चाहता हूं कि पहली बार ओलंपिक के लिए किसी बॉलीवुड अभिनेता को गुडविल एंबेस्डर बनाया गया है? आज तक क्या कभी बॉलीवुड ने किसी खिलाड़ी को अपने कार्यक्रम के लिए दूत बनाया है?”

milkha-24_14614924691Image Source :http://i9.dainikbhaskar.com/

वहीं आपको बता दें कि इस मामले पर और भी कई दिग्गज हैं, जिन्होंने अपनी बात रखी है। इनमें से कुछ इस प्रकार हैं-

धनराज पिल्लै, पूर्व हॉकी कप्तान

“मैं किसी खिलाड़ी को ही सद्भावना दूत देखना चाहूंगा। हमारे पास मिल्खा सिंह, पीटी ऊषा, अभिनव बिंद्रा जैसे खिलाड़ी मौजूद हैं। इसमें कोई शक नहीं कि सलमान बॉलीवुड में सबसे अहम चेहरा हैं और जो भी वह कहते हैं वह बिकता है, लेकिन खेलों में मुझे लगता है कि किसी खिलाड़ी को ही दूत बनाया जाना चाहिए।”

sports-dhanraj-pillay-the-best-local-coach-for-national-team-1-78645-78645-dhanraj-pillayImage Source :http://www.khaskhabar.com/

कृष्णा पूनिया, एथलीट

“हमारे देश में एथलीटों की कोई कमी नहीं है। पीटी ऊषा, सचिन तेंदुलकर और कई अन्य ने हमें गौरवान्वित किया है। लोग हालांकि फिल्मी सितारों को पसंद करते हैं और शायद यही सोच रही होगी कि इससे ओलंपिक खेलों को लोकप्रिय बनाने में मदद मिलेगी। मैं उन्हें इस भूमिका के लिए शुभकामनाएं देती हूं।”

krishna-pooniaImage Source :http://www.khaskhabar.com/

त्रिलोचन सिंह, उपाध्यक्ष, आईओए

“सलमान खान को सद्भावना दूत बनने के लिए कोई फीस नहीं दी जा रही है। युवा उन्हें पसंद करते हैं और इससे खेल को ही लाभ होगा।”

800x480_IMAGE52466762Image Source :http://acdn.newshunt.com/

सलमान आए, खिलाड़ियों के लिए बीमा लाए

इसी दौरान बता दें एक इंश्योरेंस कंपनी (इडलवाइस टोक्यो लाइफ़ इंश्योरेंस ग्रुप) ने इस बार ओलंपिक्स में भाग लेने वाले सभी खिलाड़ियों के लिए एक-एक करोड़ रुपये का इंश्योरेंस करने का ऐलान किया है। ऐसे में मैरीकॉम, जो कि राज्यसभा की मेंबर और ओलंपिक पदक विजेता मुक्केबाज हैं उनका कहना है कि इस बार दूसरे खिलाड़ियों के आगे चुनौती और ज्यादा बढ़ गई है।

481833-salman-khan-ioaImage Source :http://i.ndtvimg.com/

खेल मंत्री ने बढ़ाया हौसला- भूल जाओ सलमान को, असली हीरो तुम ही हो

इस घमासान को लेकर हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज का बयान भी सामने आ गया है। उन्होंने योगेश्वर दत्त के पक्ष में अपना बयान देते हुए कहा है कि- “योगेश्वर दत्त असली हीरो हैं, जबकि सलमान नकली हीरो हैं। सलमान को ओलंपिक का गुडविल एंबेस्डर बनाया जाना बेईमानी है क्योंकि मेडल तो असली हीरो ही लेकर आएंगे।” इस दौरान अनिल विज ने योगेश्वर दत्त को सलाह देते हुए कहा कि-“भूल जाओ सलमान को, मेडल असली हीरो लेकर आएंगे नकली फिल्मी नहीं।” वहीं विज ने ये भी कहा कि “अगर गुडविल एंबेस्डर जैसी व्यवस्था जरूरी है तो खेल से जुड़ी किसी हस्ती को यह सम्मान क्यों नहीं दिया गया। ऐसे में जो भी हो रहा है वह सरासर गलत है।”

9612-anil-vijImage Source :http://www.khaskhabar.com/

वहीं, एंबेस्डर बनने के बाद सलमान ने कहा कि हमारे देश में क्रिकेट को छोड़कर बाकी खेलों को नजरअंदाज किया जाता है। ऐसे में उनसे खेलों के लिए जो बन पड़ेगा वह जरूर करेंगे। बता दें कि रियो ओलंपिक के गुडविल एंबेस्डर बनाने के घोषणा शनिवार को की गई थी। जिसमें सलमान को कई दावेदारों की सूची में शामिल दो, तीन नामों में से चुना गया है। इनमें सदी के महानायक अमिताभ से लेकर बॉलीवुड के किंग खान तक शामिल थे, लेकिन सुल्तान तो सुल्तान हैं। इसलिए उन्हें ये मौका दिया गया। ऐसे में अब देखना ये होगा कि ये घमासान यहीं ठहरता है या नहीं। वहीं दूसरी ओर जिस उद्देशय से आईओए ने सलमान को चुना, वह पूरा होगा या नहीं।

To Top