हैरान न होना क्योंकि यह एक मस्जिद है ताजमहल नहीं

0
677

ताजमहल का निर्माण शहंशाह शाहजहां ने भारत में कराया था पर उन्होंने कभी सोच भी नहीं होगा कि उनकी इस विश्वविख्यात ईमारत के जैसी ही अन्य ईमारत दुनिया में और भी जगह बन सकेगी। आज हम आपको एक ऐसी ईमारत के बारे में जानकारी देने जा रहें हैं जो की ताजमहल से हूबहू मिलती हैं। इसको देखने के बाद में हर किसी के मन में यह प्रश्न उठता ही है कि ताजमहल तो भारत में है फिर यह यहां पर कैसे आ गया। खैर जानकारी के लिए आपको बता दें कि ताजमहल जैसी दिखने वाली यह ईमारत कुवैत में स्थित है। आइये जानते हैं इस ईमारत के बारे में।

siddiqa-fatima-zahra-mosque1Image Source:

ताजमहल के जैसी दिखाई देने वाली इस ईमारत का निर्माण कुवैत में हुआ है, इस ईमारत को भले ही ताजमहल की तरह बनाया गया है पर इसका उपयोग असल में मस्जिद की तरह होता है, यह ईमारत एक मस्जिद है जहां पर नमाजी लोग नमाज अदा करते हैं। इस ईमारत का डिजाइन भले ही ताजमहल के जैसा है पर इसका नाम ताज महल नहीं है बल्कि इसका नाम “सिद्दीक फातिमा ज़हर” है, यह मस्जिद कुवैत के शहर “दहिया अब्दुल्लाह मुबारक” में स्थित है जो की कुवैत इंटरनेशनल एयरपोर्ट के काफी करीब है। इस मस्जिद की खास बात यह है कि इसमें 500 महिलाओं के लिए नमाज पढ़ने हेतु विशेष जगह बनाई गई है। इस ताजमहल की तरह दिखाई देने वाली मस्जिद को बनाने की शुरुआत 2008 में हुई थी और 2011 में इसको पूरा कर दिया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here