8th पास लड़के का बनाया यह चूल्हा आपका खाना ही नहीं, बनाता है बिजली भी

आज हम आपको बता रहें हैं एक ऐसे लड़के की कहानी जिसके पास न तो इंजीनियरिंग की डिग्री है और न ही डिप्लोमा परन्तु फिर भी उसने अपने ज्ञान के बल पर एक ऐसा यंत्र बना दिया है जो की आज के बड़े बड़े इंजीनियरों के ज्ञान को टक्कर देने के लिए काफी है। आइये जानते हैं इस लड़के और इसके द्वारा बनाए गए इस यंत्र के बारे में।

power generating stove,electric generating stove,electric,electric generating and cooking stove,1Image Source:

इस लड़के का नाम है गोवर्धन और यह लड़का राजस्थान के उदयपुर में स्थित चीरवा गाँव में चाय की दूकान चलाता है। इस लड़के ने चूल्हे को विकसित किया है जो की न सिर्फ खाना बनाने का काम करता है बल्कि इससे बिजली भी बनती है, यह चूल्हा वर्तमान में गोवर्धन की दूकान में थ्री-इन-वन चूल्हे का काम करता है, गोवर्धन की दूकान में इस चूल्हे से एक और चाय बनती है तथा दूसरी और खाना और बिजली का निर्माण होता है सो अलग, वो भी मुफ्त में। यदि इस गोवर्धन नामक लड़के की पढ़ाई की बात करें तो यह लड़का सिर्फ 8th पास है।

इस प्रकार से काम करता है यह चूल्हा –

power generating stove,electric generating stove,electric,electric generating and cooking stove,2Image Source:

इस चूल्हे के अंदर में क्वाइल के साथ में एक छोटा पावर जेनरेटर जोड़ा गया है, जो की गर्म धुएं और हीट में काम करता है। जैसे ही आप इस चूल्हे में लकड़ी या उपले को इस चूल्हे को जलाने के लिए डालते हो तो इस बस्तुओं के जलने से जब हीट और धुँआ पैदा होता है तो चूल्हे में लगा इंजन गर्मी के प्रेशर से काम करना शुरू कर देता है और बिजली बननी स्टार्ट हो जाती है। इस चूल्हे में एक प्लग बोर्ड भी लगाया गया है, इससे चूल्हे में बनी बिजली को अपने काम में ले लिया जाता है। इस यंत्र से इतनी बिजली बन जाती है की गोवर्धन का मोबाइल भी चार्ज होता रहता है तथा घर में भी बिजली जलती रहती है। गोवर्धन को फैक्ट्री में काम करते समय इस प्रकार का चूल्हा बनाने का ख्याल आया था और उसने 2 महीने की मेहनत से इस चूल्हे को बना लिया था।

To Top