भारत की बेटी साक्षी ने रियो ओलंपिक में बढ़ाया देश का गौरव, जीता करोड़ों का इनाम

भारत को रियो ओलंपिक के दौरान पहला मेडल जीताने वाली साक्षी मलिक की हमारे देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी काफी तारीफ हो रही है। उन्होंने महिलाओं की कुश्ती में 58 किलोग्राम भार का ब्रॉन्ज मेडल जीता है। साक्षी की इस जीत के बाद देश का हर इंसान उन्हें बधाई दे रहा है। साक्षी ने ही भारत के हिस्से में प्रथम पदक अपने नाम किया है।

साक्षी भारत को ओलंपिक में पदक जीताने वाली अब तक की चौथी भारतीय महिला है। पहले यह पदक भारोत्तोलक कर्णम मल्लेश्वरी ने वर्ष 2000 में सिडनी में, फिर साइना नेहवाल ने बैडमिंटन में और मेरी कॉम ने 2012 में मुक्केबाजी में लंदन में ब्रॉन्ज पदक जीता है।

इस 23 साल की पहलवान को रियो में भले ही पदक के साथ नकद इनाम ना दिया गया हो, लेकिन उनके देश भारत ने उन पर करोड़ों रुपयों के इनाम देने की बात सामने रखी है। जहां हरियाणा सरकार ने साक्षी को ढ़ाई करोड़ रुपए देने की घोषणा की है, तो वहीं रेलवे ने कांस्य पदक के लिए 50 लाख रुपए नकद देने का फैसला सुनाया है।

sakshi malik1Image Source:

इतना ही नहीं, भारतीय ओलंपिक संघ ने भी रियो के पदक विजेताओं को नकद इनाम देने की घोषणा की है। बॉलीवुड के भाईजान यानि कि सल्लू मियां भी ऐसे में कहां पीछे रहते उन्होंने भी ओलंपिक में जाने वाले हर खिलाड़ी को 1 लाख 1 हजार रुपए देने की घोषणा की है।

sakshi malik2Image Source:

हाल में आईओए की एक बैठक में यह घोषणा की गई कि पहली बार संघ विजेताओं को नकद इनाम दिया जाएगा। जहां स्वर्ण पदक विजेता को 50 लाख, तो रजत जितने वाले को 30 लाख और कांस्य पदक हासिल करने वाले खिलाड़ी को 20 लाख रुपए इनाम के तौर पर दिया जाएगा।

sakshi malik3Image Source:

अब बस देश को साक्षी के वापस आने का इंतजार है, रियो में भले ही साक्षी को पदक के साथ कोई भी इनाम ना दिया गया हो, लेकिन देश लौटने पर उन पर करोड़ो रुपए की बारिश की जाएगी।

To Top