इन कारणों से सेमीफाइनल में चूक गई भारतीय टीम

0
345

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में टी-20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में भारत को वेस्ट इंडीज ने 7 विकेट से हरा दिया। इसके साथ ही भारत टी-20 वर्ल्ड कप मैच से बाहर हो गया और वेस्ट इंडीज का फाइनल में इंग्लैंड के साथ मुकाबला होगा। हालांकि भारतीय क्रिकेट टीम के बल्लेबाजों का प्रदर्शन काबिले तारीफ रहा, लेकिन गेंदबाजों के खराब प्रदर्शन की वजह से खेल पलट गया। जानिए टीम इंडिया की कमी कहां-कहां रह गई-

गेंदबाजों का प्रदर्शन- भारतीय टीम के बल्लेबाजों ने 20 ओवर में 192 रनों का आकड़ा बनाया। इस मैच में भी विराट कोहली बेहतरीन फॉर्म में थे। उन्होंने 47 गेंदों में 89 रन का आंकड़ा हासिल किया, लेकिन गेंदबाजों के निराशाजनक प्रदर्शन से जीती हुई बाजी हार में तब्दील हो गई। बुमराह ने 4 ओवर में 42, पांड्या ने 43 रन और जड़ेजा ने 48 रन वेस्ड इंडीज को दिए जबकि तीनों ने मिलकर सिर्फ एक विकेट निकाला।

ballImage Source: http://www.desikhabar.com/

टॉस का हारना- भारतीय टीम की हार का मुख्य कारण टॉस हारना भी रहा, क्योंकि वानखेड़े स्टेडियम का इतिहास रहा है कि इस पिच पर टॉस जीतने वाली टीम ही मैच जीतती है। अगर भारत टॉस जीतता तो टीम लक्ष्य तक पहुंच सकती थी। धोनी का भी यह कहना था कि टॉस हारना टीम के लिए अच्छा नहीं था।

एक अच्छे गेंदबाज की कमी रही- कल के मैच में भारतीय टीम को एक अच्छे स्पिनर की कमी खली। मैच की हालत कुछ ये थी कि विराट कोहली जैसे बल्लेबाज को धोनी को दो ओवर देने पड़े। हालांकि विराट ने पहले ओवर में चार्ल्स जैसे बेहतरीन खिलाड़ी को क्लीन बोर्ड कर दिया, लेकिन गेंदबाजों की खराब गेंद के कारण भारत को 7 विकेट से हारना पड़ा।

ओस की भूमिका- कल के मैच में ओस की खास भूमिका रही क्योंकि वानखेड़े स्टेडियम की पिच बल्लेबाजों के लिए अच्छी मानी जाती है। दूसरी पारी में ओस गिरने के बाद गेंद गीली हो गई जिससे गेंदबाजों को भारी नुकसान हुआ। ये इस पिच का इतिहास रहा है।

India World T20 Cricket India West IndiesImage Source: http://p.imgci.com/

नो बॉल ने पल्टा खेल- इस बात में कोई दो राय नहीं है कि इस मैच में भारत की गेंदबाजी बेहद कमजोर रही। वेस्ट इंडीज को जीत दिलाने वाले सिमंस को कई बार जीवनदान मिला। शायद कल सिमंस का ही दिन था तभी वो दो बार बचे। सिमंस दो बार कैच आउट हुए, लेकिन वो दोनों बॉलें नो बॉल निकलीं और एक बार बॉउंड्री पर कैच आउट हुए लेकिन उस कैच के दौरान खिलाड़ी का पैर बॉउंड्री से टच हो गया था। जिसे छक्का करार दे दिया गया। सिमंस को कुल मिलाकर 3 बार जीवनदान मिला जिसका उन्होंने भरपूर फायदा उठाया।

इस मैच में भारत और वेस्ट इंडीज दोनों टीमों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया, लेकिन कल का दिन वेस्ट इंडीज के नाम था। 3 अप्रैल को कोलकाता के ईडन गार्डन में इंग्लैंड और वेस्ट इंडीज का फाइनल मैच होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here