अच्छे दिन हुए फुर्रररर…एक जून से जनता पर फिर पड़ेगी मंहगाई की मार

मोदी सरकार के अच्छे दिनों के वादों पर यकिन कर आम जनता ने जिस मोदी सरकार को सत्ता सौंपी। आज उसी मोदी सरकार के राज में जनता पर एक बार फिर मंहगाई की मार पड़ने वाली है। जिससे आप यह कह सकते हैं कि मोदी सरकार के अच्छे दिन के वादे महज हवा हवाई थे। आप माने या ना माने लेकिन कल से यानी की एक जून से आम जनता की जेब पर और ज्यादा डाका पड़ने वाला है। जनता के मंहगे दिनों की शुरूआत होने वाली है। जिसके लिए हम तो बस यही कहेंगे की बेचारी जनता एक बार फिर मंहगाई की मार को झेलने के लिए तैयार हो जाए। कल से रेस्त्रां में खाना-पीना, फोन पर बातें करना और हवाई जहाज से सफर तक करना सब मंहगा हो जाएगा।

ऐसा कर योग्य सेवाओं पर 0.5% फीसदी की दर से बढ़ाए गए सेस के प्रभाव में आने से होने वाला है। रिपोर्ट के अनुसार वित्त मंत्री अरूण जेटली ने 2016-17 के आम बजट को पेश करते हुए कृषि कल्याणा सेस लगाने का ऐलान किया था। जो एक जून से कई सेवाओं पर लागू होना है। बता दें की यह सेस 0.5% फीसदी की  दर से लगाया जाएगा। जिसके चलते कल से इंश्योरेंस, मोबाइल पर बातें, सफर, खाना पीना, प्रापर्टी खरीदना आदि सब मंहगे हो जाएंगे।

inflation31Image Source :http://iwatchindia.com/

अपने इस कदम से सरकार यह उम्मीद लगा रही है कि वह 5000 करोड़ रुपए और ज्यादा इकठ्ठा कर पाएगी। जिनको बाद में वह किसान और कृषि क्षेत्र से जुड़े लोगों के कल्याण की योजनाओं के लिए खर्च करेगी। वहीं अब सरकार के इस कदम से तमाम सेवाओं पर देय सर्विस टैक्स 14.5% से बढ़के 15% तक हो जाएगा। जैसी की आप सभी जानते होंगे कि पिछले साल ही वित्तमंत्री अरूण जेटली ने सेवा कर 12.36% से बढ़ाके 14% कर दाया था। फिर पिछले साल नवम्बर में ही स्वच्छ भारत अभियान के लिए फंड जुटाने के इरादे से इसे 0.50% और बढ़ा दिया गया। जिसके बाद यह 14.50 % हो गया था।

mehngai-darImage Source :http://www.navabharat.com/
To Top