_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2018/06/","Post":"http://wahgazab.com/%e0%a4%95%e0%a4%ae%e0%a4%be%e0%a4%b2-%e0%a4%95%e0%a4%be-%e0%a4%87%e0%a4%82%e0%a4%9c%e0%a5%80%e0%a4%a8%e0%a4%bf%e0%a4%af%e0%a4%b0-%e0%a4%aa%e0%a5%87%e0%a4%a1%e0%a4%bc-%e0%a4%aa%e0%a4%b0-%e0%a4%ac/","Page":"http://wahgazab.com/aadhaar/","Attachment":"http://wahgazab.com/%e0%a4%95%e0%a4%ae%e0%a4%be%e0%a4%b2-%e0%a4%95%e0%a4%be-%e0%a4%87%e0%a4%82%e0%a4%9c%e0%a5%80%e0%a4%a8%e0%a4%bf%e0%a4%af%e0%a4%b0-%e0%a4%aa%e0%a5%87%e0%a4%a1%e0%a4%bc-%e0%a4%aa%e0%a4%b0-%e0%a4%ac/%e0%a4%87%e0%a4%b8-%e0%a4%98%e0%a4%b0-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%ac%e0%a4%a6%e0%a5%8c%e0%a4%b2%e0%a4%a4-%e0%a4%ac%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%b0%e0%a4%bf%e0%a4%95%e0%a5%89%e0%a4%b0%e0%a5%8d%e0%a4%a1/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/37779/","Custom_css":"http://wahgazab.com/flex-mag/","Oembed_cache":"http://wahgazab.com/705a904e083c70cef81a3db17f0d9064/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=38240","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

यहां भगवान की जगह “दलदल” की पूजा करते हैं लोग, होती हैं बीमारियां दूर

आपने बहुत से मंदिर या तीर्थस्थान देखें ही होंगे जहां भगवान की पूजा होती है, पर क्या आप अपने ही देश के एक ऐसे स्थान के बारे में जानते हैं जहां पर लोग भगवान के रूप में दलदल की पूजा करते हैं। जी हां, यह सच है दुनिया भर में लोग पूजा या इबादत करने के लिए अपने-अपने ही धार्मिक स्थलों की ओर जाते हैं, पर अपने देश में एक स्थान ऐसा भी है जहां पर लोग उपासना करने के लिए “दलदल” में जाते हैं और उपासना के बाद में दलदल का पानी भी प्रसाद के रूप में ग्रहण करते हैं, आइए जानते हैं इस स्थान के बारे में।

daldali-mata-mandirtempleodishasundergarh1Image Source:

भगवान के स्थान पर दलदल की उपासना करने वाले ये लोग भारत के मध्य प्रदेश के हैं और यहां के मंडला जिले में रहते हैं। मंडला जिलें में लोग दलदल की उपासना करने के लिए काफी दूर-दूर से आते हैं। लोगों की मान्यता है कि इस दलदल की उपासना करने के बाद में उनको रोगों से मुक्ति मिल जाती है तथा वे रोगमुक्त और स्वस्थ हो जाते हैं। इस स्थान पर “दलदली माता” का एक मंदिर भी लोगों ने बनवाया है, इस मंदिर में भी लोग पूजा करते हैं, यहां आने वाले लोगों का कहना है कि यहां उपासना करने से इच्छुक दम्पतियों को संतान की प्राप्ति भी हो जाती है। इस मंदिर में उपासना करने के पहले लोग यहां स्थित दलदल की उपासना करते हैं तथा उसके पानी को प्रसाद रूप में ग्रहण करते हैं।

To Top