जीवित रहते हुए भी लोग करते हैं मृत्यु का अहसास

0
321
Participants dressed in shrouds lie down inside wooden coffins during the “death experience” program at Hyowon Healing Center in Seoul, South Korea, Tuesday, Dec. 22, 2015. In a dark, dimly-lit room, people dressed in white burial shrouds sit down next to dozens of coffins. They write their wills, climb into the caskets, lie down and a symbolic “angel of death” _ a man wearing a traditional Korean hat and black robes -- shuts the lid of each casket.(AP Photo/Ahn Young-joon)

देखा जाए तो आज की भागदौड़ की लाइफ में तनाव एक व्यापक समस्या बन गया है। यदि किसी व्यक्ति को तनाव होता है तो वह कुछ न कुछ ऐसा करता है जिससे उसका मनोरंजन हो। आपको जानकर हैरानी होगी कि एक ऐसा देश भी है जहां पर लोग अपने तनाव को दूर करने के लिए जीते जी मरने के बाद के जीवन में जाना पसंद करते हैं और ऐसा महसूस कराने के लिए बहुत से संस्थान भी कार्य कर रहे हैं। यहां हम बात कर रहे हैं कोरिया की।

People feel death while being alive1Image Source: http://i.dailymail.co.uk/

जी हां, दक्षिण कोरिया में लोग अपने तनाव को कम करने के लिए मृत्यु के बाद के जीवन का अहसास करते हैं। इस प्रयोग के लिए वो जीते जी 10 मिनट के लिए ताबूत में रहते हैं, ताकि वो अपने तनाव को भगा सकें। बहुत से लोगों का मानना है कि ऐसा करने से उनके मन पर गहरा मनोवैज्ञानिक प्रभाव पड़ता है और वो काफी रहत महसूस करते हैं।

People feel death while being alive2Image Source: http://www.nebeep.com/

वांग योंग योनाम की महिला जिनकी उम्र 67 वर्ष है, ने कहा कि इस 10 मिनट मरने के प्रयोग के बाद मुझमें नया उत्साह और जोश आ गया है। अब मैं अपने जीवन की शुरूआत नए ढंग से कर सकती हूं।

People feel death while being alive4Image Source: http://s2.dmcdn.net/

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here