प्याज पर बढ़ते फिल्मी डायलॉग

प्याज पर फिल्मी डायलॉग दिन पर दिन बढ़ते जा रहे हैं। कुछ ऐसे डायलॉग इन दिनों काफी चर्चा में हैं।
मेरे करण अर्जुन आएंगे और दो किलो प्याज लाएंगे. . .।
मेरे पास बंगला है गाड़ी है, बैंक बैलेंस है, रुपया है, पैसा है, तुम्हारे पास क्या है? मेरे पास प्याज है. . .।
जिनके घर प्याज के सलाद होते हैं वो बत्ती बुझा कर खाना खाते हैं. . .।
चिनॉय सेठ, प्याज बच्चों के खेलने की चीज नहीं होती, कट जाए तो खून निकल आता है. . .।
मैं आज भी फेंके हुए पैसे नहीं उठाता, प्याज हो तो अलग बात है. . .।
लगता है सब्जी मंडी में नए आए हो साहेब, सारा शहर मुझे प्याज के नाम से जानता है. . .,
11 राज्यों की सरकार मुझे ढूंढ़ रही है पर प्याज को खरीदना मुश्किल ही नहीं, नामुमकिन है. . .।
ये प्याज मुझे दे दे ठाकुर . . .
तुम्हें चारों तरफ से पुलिस ने घेर लिया है, अपनी सारी प्याज कानून के हवाले कर दो. . . .।

To Top