_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2017/05/","Post":"http://wahgazab.com/female-lover-protests-in-front-of-the-groom-car-and-gets-married-in-flimy-style/","Page":"http://wahgazab.com/addd/","Attachment":"http://wahgazab.com/female-lover-protests-in-front-of-the-groom-car-and-gets-married-in-flimy-style/8-18/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/28118/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=154","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

ऑड इवन फॉरमूले में फंस गए स्कूलों के प्रबंधक

दिल्ली में एक बार फिर से ऑड इवन का फॉरमूला शुरू होने वाला है। इस फॉरमूले में इस बार आम जनता के साथ स्कूली छात्रों को भी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। स्कूल प्रबंधकों को छात्रों को स्कूल तक लाने और ले जाने के लिए बसें नहीं मिलेंगी। जिससे छात्रों के समक्ष स्कूलों तक पहुंचने की समस्या खड़ी होगी।

दिल्ली की सड़कों पर एक बार दोबारा से ऑड इवन का फॉरमूला शुरू होने जा रहा है। इसके शुरू होने से पहले दिल्ली सरकार की ओर से कहा गया था कि दिल्ली के सभी स्कूलों को सुबह आठ बजे तक डीटीसी की बसें मिलेंगी। सरकार के आश्वासन के बाद भी प्राईवेट स्कूलों को डीटीसी की बसें प्रदान करने वाली संस्था ने स्कूलों को बसें प्रदान करने की अभी कोई जिम्मेदारी नहीं ली है। संस्था के अधिकारियों का कहना है कि अभी केवल इस बारे में बताया ही गया है, कोई सर्कुलर नहीं मिल पाया है। वहीं, दिल्ली के परिवहन मंत्री गोपाल राय का कहना है कि स्कूलों को डीटीसी बसें इस शर्त पर दी जाएंगी कि वे 8 बजे तक फ़ील्ड में आम जनता के लिए आ जाएं, लेकिन अभी सही स्थिति का पता न होने से दिल्ली के स्कूल प्रबंधक डरे हुए हैं।

 

Most Popular

To Top