विमान हादसे में नहीं मरे थे नेताजी सुभाषचंद्र बोस, बल्कि 1947 तक रहें थे जिंदा- फ्रेंच रिपोर्ट

0
575
नेताजी सुभाषचंद्र बोस

 

नेताजी सुभाषचंद्र बोस की मौत का रहस्य अभी भी रहस्य ही है, पर हाल ही में आई एक खबर ने सभी की नींदे उड़ा दी है। जी हां, हाल ही में आई फ्रैंच सीक्रेट सर्विस की एक रिपोर्ट में यह बताया गया है कि नेता जी की मौत किसी विमान हादसे में नहीं हुई थी, बल्कि वह 1947 तक जीवित थे। आपको हम बता दें कि अभी तक यह माना जाता रहा है कि नेता जी की मौत एक विमान हादसे के दौरान जापान में हो गई थी, पर इस फ्रेंच रिपोर्ट ने बहुत से रहस्यों पर से पर्दा उठा दिया है।

नेताजी सुभाषचंद्र बोसImage Source: 

नेता जी की मौत के रहस्य को जानने के लिए भारत सरकार ने तीन कमेटियों का गठन किया है। जिनमें से खोसला कमीशन (1970) तथा शाह नवाज़ कमिटी (1956) का कहना यह है कि नेताजी की मौत 18 अगस्त 1945 को जापान के तैहोकू एयरपोर्ट पर एक विमान क्रैश में हो गई थी, पर इसके बाद बने मुखर्जी कमीशन (1999) ने इस बारे में अपनी राय रखते हुए कहा कि नेताजी की मौत किसी विमान हादसे में नहीं हुई थी, पर सरकार ने मुखर्जी कमीशन की बात को स्वीकार नहीं किया और इसके ऊपर रिसर्च चलती रही।

नेताजी सुभाषचंद्र बोसImage Source: 

हाल ही में पेरिस के एक पत्रकार जेबीपी मोरे ने दिसंबर 11, 1947 की फ्रेंच सीक्रेट सर्विस की रिपोर्ट को आधार बना कर यह खुलासा किया है कि नेता जी की मौत का कारण विमान हादसा नहीं था, बल्कि वे 1947 तक जीवित थे। पत्रकार मोरे का कहना है कि फ्रेंच सीक्रेट सर्विस के लोग यह मानते हैं कि 18 अगस्त 1947 में नेताजी की मौत किसी विमान हादसे में नहीं हुई थी, बल्कि वे उस समय इंडो-चीन से बच कर निकल गए थे। 11 दिसंबर 1947 तक नेताजी के आवास का किसी को पता नहीं था, इसका मतलब यह है कि वे 1947 तक कहीं न कहीं जीवित ही थे और उसके बाद में ही उन्होंने गुमनामी का जीवन जिया। अब देखना यह है कि नेताजी पर हुए इस खुलासे पर भारत सरकार क्या कदम उठाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here