इस रेगिस्तान में सदियों से बज रहा है रहस्यमय संगीत

दुनिया को बनाने वाले ने बहुत से रंगों को मिला कर इस दुनिया को बनाया है। इसीलिए प्रकृति की कुछ घटनाएं आज भी सामान्य लोगों की समझ से बाहर हैं। आज हम आपको एक ऐसे ही प्राकृतिक स्थल के बारे में बताएंगे जो अपने रहस्यमय संगीत की वजह से काफ़ी पुराने समय से लोगों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है।

moroccoImage Source: http://privatedeserttours.com/

यह रहस्यमय जगह है मोरक्को का रेगिस्तान। मोरक्को के इस रेगिस्तान में ऐसी कई जगह हैं जहां ज्यादातर समय संगीत सुनाई देता है। यहां अजीब सी ध्वनि सुनाई पड़ती है। कभी-कभी तो यहां ड्रम, गिटार, वायलिन या अन्य वाद्ययंत्रों से निकलने वाली धुनें भी सुनाई पड़ती हैं। आश्चर्य की बात यह है कि यह ऐसा रेगिस्तानी इलाका है जहां रहना ही बहुत मुश्किल है तो यहां संगीत सुनाई देना किसी अचंभे से कम नहीं। यहां से गुजरने वाले लोगों का मानना है कि शायद यहां भूत-प्रेत रहते हैं, जो राहगीरों को डराते हैं। ऐसा न जाने कितने दशकों से चला आ रहा है। मगर कभी भी कोई इसकी सही वजह नहीं ढूंढ पाया।

पुरातन काल से होता आ रहा है ऐसा —
आज से बहुत पहले 13वीं शताब्दी की बात करें तो उस वक्त महान मशहूर यात्री मार्को पोलो पहली बार चीन पहुंचे थे। उन्होंने वहां के रेगिस्तानी इलाकों में ऐसे ही संगीत की धुनें सुनी थीं। तब उन्होंने अनुमान लगाया था कि ये शायद आत्माएं हैं, जो रेगिस्तान में भटकती हैं। मगर ऐसा कैसे हो सकता है कि दो बिल्कुल अलग-अलग जगहों पर एक सी ही घटनाएं हों और वह भी इतने समय के अंतराल पर। हालांकि मार्को पोलो ने इस तथ्य पर काफ़ी विचार किया था पर वह इसका राज़ नहीं जान पाये।

Mysterious music is being played due to cold in this desert.Image Source: http://www.morocco-desert-experts.com/

आखिर क्या है रहस्य —
आज के प्रगतिशील विज्ञान की मानें तो रेगिस्तान में इस तरह संगीत सुनाई देने की वजह वैज्ञानिकों ने ढूंढ निकाली है। लैब में लंबे समय तक हुए परीक्षणों के बाद पाया गया कि रेगिस्तान में बने रेत के टीलों के नीचे जब रेत खिसकती है तो इस दौरान होने वाली वाइब्रेशन से यह संगीत उत्पन्न होता है। इसके लिए रेत के कणों का आकार भी जिम्मेदार है। कणों का आकार और रेत के खिसकने की गति उस संगीत जैसी ध्वनि के मुख्य कारक हैं। हवा के बहने पर ये सभी प्रक्रियाएं वातावरण में संगीत की ध्वनि के रूप में फैल जाती हैं। कहीं रेत का घनत्व ज्यादा होता है, कहीं हवा के कारण रेत तेजी से खसकती है। इन कारणों से अलग-अलग संगीत की धुनें निकलती हैं। हालांकि, यह बात पूरी तरह तर्कसंगत लगती है पर यदि इस क्षेत्र में और अधिक अनुसंधान संभव हो सका तो रहस्यमय संगीत की परतें और अधिक खुलने की संभावना है।

To Top