786 या ओम लिखने से कैंसिल हो सकती है आपकी परीक्षा

0
334

जल्द ही सभी कक्षाओं की फाइनल परीक्षाएं शुरू होने वाली हैं। इन परीक्षाओं में बोर्ड के परिक्षार्थियों को भी शामिल किया जाएगा। फाइनल परीक्षाओं के लिए छात्रों में डर बना रहता है। वहीं, अब बोर्ड के द्वारा इन परीक्षाओं के लिए छात्रों के लिए कुछ अहम गाइडलाइन बनाई गई है। जिसके तहत अब अगर किसी छात्र की आंसर शीट पर ओम या 786 लिखा पाया गया तो उसकी परीक्षा को रद्द किया जा सकता है।

देश के अधिकतर परीक्षा बोर्डों के द्वारा मार्च और अप्रैल माह में सभी कक्षाओं की फाइनल परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं। इन परीक्षाओं के लिए छात्र इन दिनों पूरी मेहनत से जुटे हुए हैं। वहीं, बोर्ड की परीक्षा देने वालों को भी परीक्षा के लिए डर सता रहा है। जहां एक ओर इस दौरान बच्चों को परीक्षा के डर से दूर रखने की पूरी कोशिश की जा रही है, वहीं छात्रों के लिए परीक्षा संबंधी नए गाइडलाइन जारी किए गए हैं।

1Image Source: http://www.newstracklive.com/

यूपी माध्यमिक शिक्षा परिषद ने आदेश जारी कर कहा है कि छात्रों को अपनी आंसर शीट में ओम और 786 जैसे धार्मिक चिन्हों का प्रयोग नहीं करना होगा। ऐसा करने वाले छात्रों की परीक्षा रद्द की जा सकती है। परिषद की ओर से ऐसा कदम इसलिए उठाया गया है क्योंकि परिषद यह नहीं चाहता कि कॉपी जांचने वाले शिक्षकों को छात्रों के धर्म के बारे में न पता चले। इस आदेश का पालन करने की पूरी जिम्मेदारी परीक्षा के दौरान कक्ष के अधीक्षक की होगी। साथ ही परीक्षा में छात्रों को अपने साथ ही किसी प्रकार का नकल का सामान या मोबाइल भी नहीं लाने की हिदायत दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here