यहां साक्षात् दर्शन देते हैं भगवान राम, प्रसाद में मिलता है पान

भगवान राम के बारे में सभी लोग जानते ही हैं, विश्व में उनके अनेक मंदिर हैं, पर क्या आप उनके किसी ऐसे मंदिर के बारे में जानते हैं जहां वे साक्षात् उपस्थित रहते हैं, यदि नहीं, तो आइए जानते हैं इस मंदिर के बारे में जहां उनके होते हैं साक्षात् दर्शन। भगवान राम के साक्षात् दर्शन कराने वाले इस मंदिर का नाम “राजा राम मंदिर” है, यह मंदिर मध्यप्रदेश के टीकमगढ़ नामक स्थान के ओरछा नाम की जगह पर स्थित है, जानकरी के लिए बता दें कि ओरछा नामक यह स्थान एक धर्मनगरी के रूप में भी प्रसिद्ध है।

lord-rama1Image Source:

यह मंदिर एक प्राचीन मंदिर है और यह उस महाकवि और संत तुलसीदास के समकालीन ही बना हुआ है, इस मंदिर निर्माण से जुड़ी एक अत्यंत प्राचीन घटना है, यह घटना उस समय के स्थान के राजा मधुरक शाह और उनकी रानी गणेश कुंवर से जुड़ी हुई है। महारानी गणेश कुंवर एक रामभक्त महिला थी और उन्होंने अयोध्या की सरयू नदी के किनारे एक कुटिया बना कर कुछ समय तपस्या की थी। उस समय संत तुलसीदास भी जीवित थे और उन्होंने रानी को आशिर्वाद भी दिया था। रानी को काफी समय तप करने के बाद भी भगवान राम के दर्शन नहीं हुए तो उन्होंने सरयू नदी में जल समाधि लेने का निश्चय किया और जल समाधी के लिए सरयू में कूद गई, पर उस समय सरयू की ही अटल गहराइयों में रानी गणेश कुंवर को भगवान राम ने दर्शन दिए, उस समय रानी ने भगवान को अपने साथ मध्य प्रदेश में ही रहने के लिए प्रार्थना की और उनकी प्रार्थना स्वीकार कर भगवान राम ने उनको ओरछा में साक्षात् सैदव रहने का वचन दिया था। इसके बाद में ही रानी ने ओरछा में “राजा राम मंदिर” का निर्माण करा, वहां श्रीराम की प्रतिष्ठा कराई और उस समय से ही इस मंदिर में भगवान राम सैदव प्रतिष्ठित हैं। यहां बहुत से भक्त लोग आज भी भगवान राम के दर्शन कर अपने जीवन को कृतार्थ करते हैं।

To Top