खरबूजे की फसल से महज 70 दिन में इस किसान ने कमाएं 21 लाख रुपये, जानें कैसे

खरबूजे की फसल

हालही में एक किसान ने महज 70 दिन में 21 लाख रुपये कमा कर सभी को हैरान कर डाला हैं। इस किसान ने यह कारनामा खरबूजे की फसल से किया। अब आलम यह है कि आसपास के किसान भी इस किसान से खरबूजे की फसल के बारे में जानकारी लेने के लिए आ रहें हैं। आपको बता दें कि इस किसान का नाम “खेताजी सोलंकी” है। ये गुजरात के बनासकाठा जिले के अंतर्गत आने वाले गांव चंदाजी गोलिया के निवासी हैं। खेताजी सोलंकी शुरू से ही पढ़ाई में तेज थे परंतु सातवीं क्लास से आगे नहीं पढ़ सके। इसके बाद वे पिता के साथ खेती करने में ही जुट गए।

खेताजी सोलंकी के अंदर हमेशा कुछ नया सीखने की इच्छा बनी रहती थी उन्होंने दूसरे लोगों के अनुभवों से भी बहुत कुछ सीखा जिसका उन्हें लाभ मिला। खेताजी सोलंकी अपनी फसल के कार्य को आगे बढ़ाने के लिए खेती की पैदावार बढ़ाने वाले कार्यक्रमों में जानें लगें। इसके अलावा उन्होंने इंटरनेट का सहारा भी लिया जिससे उन्होंने अनेक उर्वरको के बारे में जानकारी ली। खेताजी ने ऑर्गेनिक फॉर्मिंग की भी उचित शिक्षा ली।

खरबूजे की फसल ने बनाया लखपति –

खरबूजे की फसल ने बनाया लखपतिImage source:

2017 के समय खेताजी का खेत ऑर्गेनिक फॉर्मिंग के लिए तैयार हो गया था। उस समय उन्होंने अपने चार एकड़ के खेत में खरबूजे की फसल लगाईं। फसल आश्चर्यजनक रूप से बढ़ी और महज 70 दिन में 140 टन की फसल तैयार हो गई। इस फसल के लिए खेताजी ने 1.6 लाख का निवेश किया था। अपनी इस फसल को खेताजी ने एक डीलर की सहायता से 21 लाख में बेच डाला। इस हिसाब से खेताजी ने 19.5 लाख का लाभ कमाया।

 इस प्रकार मिली खेती में सफलता –

इस प्रकार मिली खेती में सफलता Image source:

खेताजी का कहना है कि हर किसान को कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। लोगों को कृषि मेलों में जाना चाहिए, साथ ही कृषि विश्व विद्यालय से भी संपर्क बना कर रखना चाहिए ताकि समय समय पर आपकी समस्या का समाधान हो सके। इसके अलावा कुछ निजी संस्थाएं भी कृषि के निशुल्क कार्यक्रम करती हैं। इनमें भी किसानों को जरूर जाना चाहिए। वहां से नई तकनीकों का पता लगता है।

खेताजी का कहना कि किसानों को यह जानकारी भी होनी चाहिए कि सरकार किस किस चीज पर सब्सिडी दे रही है ताकि किसान को नए यंत्रो तथा अन्य चीजों में सब्सिडी का फायदा मिल सके। इसके अलावा किसान का अच्छा बीज का चुनाव करना बेहद जरूरी रहता हैं। इस बात का ध्यान रखा जाए कि बीज प्रामाणिक हो ताकि फसल अच्छी हो सके। इस प्रकार से गुजरात के किसान खेताजी खरबूजे की फसल के जरिये ही लखपति बन गए।

To Top