_ap_ufes{"success":true,"siteUrl":"wahgazab.com","urls":{"Home":"http://wahgazab.com","Category":"http://wahgazab.com/category/uncategorized/","Archive":"http://wahgazab.com/2018/04/","Post":"http://wahgazab.com/19-year-old-boy-loses-his-heart-to-a-72-years-old-lady-got-married/","Page":"http://wahgazab.com/aadhaar/","Attachment":"http://wahgazab.com/19-year-old-boy-loses-his-heart-to-a-72-years-old-lady-got-married/19-yeras/","Nav_menu_item":"http://wahgazab.com/37779/","Custom_css":"http://wahgazab.com/flex-mag/","Oembed_cache":"http://wahgazab.com/905c7908fd211a3f544c0c491b38da5e/","Wpcf7_contact_form":"http://wahgazab.com/?post_type=wpcf7_contact_form&p=38240","Mt_pp":"http://wahgazab.com/?mt_pp=14714"}}_ap_ufee

दुनियां की सभी ट्रेन फेल हैं इस रेल के सामने, जानिये इसकी खासियत

ट्रेन

 

परिवहन के क्षेत्र में भी लगातार विकास होता जा रहा है। हालही में एक ऐसी ट्रेन आई है जिसके बारे में आप सपने में भी नहीं सोच सकते हैं। आपको बता दें कि यह अनोखी रेल जर्मनी में विकसित की गई है। यह रेल सिर्फ हाइड्रोजन गैस से ही चलती है और यह दुनिया की पहली रेल है जो हाइड्रोजन गैस से चलती है। आपको हम यह भी जानकारी दे दें कि हाइड्रोजन गैस से चलित दुनियां की इस पहली ट्रेन का परिक्षण भी सफलतापूर्वक सफल हो चुका है। इस ट्रेन का नाम “हाइड रेल” रखा गया है। यह बहुत कम ध्वनि करती है तथा पानी को छोड़ती है।

ट्रेनImage Source:

इस अनोखी रेल को “अलस्टॉम” नामक एक फ़्रांस की कंपनी ने निर्मित किया है। इस कंपनी के अधिकारी येंस स्प्रोटे बताते हैं कि “यह रेल डीजल ट्रेन की अपेक्षा 60 परसेंट कम ध्वनि उत्पन्न करती है। इसके अलावा यह उत्सर्जन मुक्त रेल भी है। इस रेल की लोगों को ले जाने की क्षमता और रफ़्तार भी डीजल वाली रेल की तरह ही है। इस रेल में डीजल इंजन की तकनीक का ही उपयोग किया गया है बस इसके ईंधन तथा इंजन के डिजाइन में फर्क है।” आपको बता दें की इस रेल के इंजन में डीजल की अपेक्षा फ्यूल सेलए हाइड्रोजन और ऑक्सीजन को डाला जाता है। इसमें हाइड्रोजन नियंत्रित तरीके से जलती है जिसका कारण ऑक्सीजन बनती है। इस प्रकार से ताप पैदा होता है और इस ताप से बिजली का उत्पादन होता है और लिथियम आयन बैटरी चार्ज होती है। जिससे यह रेल संचालित होती है। यही कारण है इस रेल से धुआं नहीं बल्कि भाप और पानी निकलता है। इस प्रकार से यह रेल पर्यावरण के अनुकूल है।

To Top