चीनी सैनिक द्वारा भारत का महज एक पत्थर छूने पर भारतीय सैनिकों ने काट डाले थे उसके दोनों हाथ

कई बार आपको चीन के आक्रमक रवैये को देखकर लगता होगा कि कहीं चीन भारत से ज्यादा ताकतवर तो नहीं, पर यहां हम भारतीय सैनिकों से जुड़ी एक ऐसी घटना आपको बता रहें हैं जिसको पढ़कर आप अपने दांतों तले अंगुलियां दवा लेंगे। जी हां, आज हम आपको कुछ ऐसी ही घटना के बारे में बता रहें हैं जिसको जानकार आप बहुत हैरान हो जाएंगे।

Image Source:

यह घटना 1967 में भारत-चीन सीमा के नाथुला दर्रे के पास स्थित चोला इलाके में घटित हुई थी। इस घटना में 44 चीनी सैनिकों को भारतीय जवानों ने मार डाला था। यह लड़ाई असल में एक पत्थर को लेकर शुरू हुई थी। दोनों देशों के सैनिक करीब 10 फिट की दूरी पर आमने सामने खड़े थे। तभी एक चीनी संतरी ने भारतीय सीमा के एक पत्थर पर अपना दावा किया, पर भारतीय सैनिकों ने उसके इस दावे को खारिज कर दिया, भारतीय सैनिक ने चीनी सैनिकों से कहा कि यदि हिम्मत है तो हाथ लगाकर दिखाओ। इतना कहने पर ही चीनी सैनिकों ने भारत की सेना के जेसीओं पर आक्रमण कर डाला और इस आक्रमण से भारत के सेना के जवान इतने गुस्से में आ गए कि उन्होंने उस चीनी संतरी के दोनों ही हाथ अपनी खुखरी से काट दिए, जिनसे उसने उस पत्थर को छुने की कोशिश की थी। इस लड़ाई में 44 चीनी सैनिकों को भारतीय सैनिकों ने मार गिराया था।”चोला विजय स्मारक” हालही में यहां बनाया गया है, यहां पर आप लाल रंग से रंगा हुआ एक पत्थर देखेंगे, यह वहीं पत्थर है जिसकी वजह से यह लड़ाई हुई थी।

To Top